झारखंड सरकार के इस फैसले से मिलेगी युवाओं को राहत, प्राइवेट सेक्टर में अब…

0
29

देश के हर राज्य में युवाओं की नौकरी को लेकर कई सवाल खड़े किए जाते हैं। देश भले ही तरक्की कर रहा है लेकिन आज भी देश के कई युवा बेरोजगार हैं। जिसको देखते हुए झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार ने युवाओं को लेकर बड़ा फैसला लिया है। इस फैसले के चलते हेमंत सरकार ने प्राइवेट सेक्टर में भी स्थानीय युवाओं को 75 फीसद नौकरी दिए जाने का ऐलान कर दिया है। सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि इस फैसले के साथ एक और बड़ा फैसला लिया गया है। जिसमें कहा गया है कि तकनीकी शिक्षा प्राप्त बेरोजगार युवाओं को 5000 रुपए बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा।

बता दें कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में शक्रवार को झारखंड कैबिनेट की एक बैठक हुई। इस बैठक में निजी क्षेत्र की कंपनियों में 75 फीसदी नौकरियां स्थानीय युवाओं के लिए आरक्षित किए जाने का फैसला लिया गया है। सूत्रों के मुताबिक प्राइवेट सेक्टर के 30 हजार रुपये तक वेतन वाले 75 फीसदी पदों को स्थानीय युवाओं के लिए आरक्षित होंगे। इसके साथ ही अगर झारखंड में काम करने वाली कोई कंपनी इस नियम का पालन नहीं करती तो उनके खिलाफ सरकार की ओर से कानूनी कार्रवाई करने का प्रावधान भी किया गया है।

बैठक में इन दोनों फैसलों को गेम चेंजर बताया जा रहा है। इस बैठक में कहा गया कि “झारखंड में काम कर रही किसी भी प्राइवेट सेक्‍टर की कंपनी में 75 फीसदी नौकरियों में स्‍थानीय लोगों को आरक्षण दिया जाएगा। इसके तहत 30 हजार रुपए महीने सैलरी तक के पदों पर सिर्फ झारखंड के युवाओं को नौकरी दिए जाने का प्रावधान राज्‍य में लागू किया जा रहा है।” सरकार के इस फैसले के बाद अब राज्य में रह रहे युवाओं को काफी राहत मिलने वाली है।