इस वीडियो के कारण ‘बबीता जी’ के खिलाफ दर्ज हुआ केस, SC/ST एक्‍ट के तहत होगी…

0
138

तारक मेहता का उल्टा चश्मा (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah) टीवी का एक ऐसा शो है जिसको सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है। इस शो के सितारों के भी लाखों-करोड़ों चाहने वाले हैं। बीते कुछ समय से इस शो की बबीता जी यानी मुनमुन दत्ता (munmun dutta) सोशल मीडिया पर चर्चा की वजह बनी हुई हैं। हाल ही में उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी एक वीडियो शेयर की थी जिसको वजह से आज लोग उनका विरोध कर रहे हैं। इस वीडियो में उन्होंने एक जाति सूचक शब्‍द का आपत्त‍िजनक तरीके से इस्‍तेमाल किया था।

इस वीडियो के चलते मंगलवार को उनके खिलाफ SC/ST एक्‍ट के तहत एफआईआर (FIR) दर्ज हो गई है। इंदौर में दलित नेता मनोज परमार ने मुनमुन दत्ता के खिलाफ अजाक थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। हालांकि मुनमुन ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से वीडियो को डिलीट कर दिया है और इस मामले में उन्होंने लोगों से माफी भी मांगी है। मनोज परमार द्वारा शिकायत कि गई है कि मुनमुन दत्ता का वीडियो वल्गर सोसायटी नाम के यूट्यूब चैनल पर डाला गया जिसमें उन्होंने जाति सूचक शब्‍द का आपत्त‍िजनक तरीके से इस्‍तेमाल किया है।

बता दें कि वीडियो में मुनमुन कहती हैं कि “यूट्यूब पर आना है और इसके लिए अच्छा दिखना चाहती हूं। उन (आपत्त‍िजनक जाति सूचक शब्‍द) जैसा नहीं दिखना चाहती।” जब ये मामला सोशल मीडिया पर ज्यादा फैलने लगा तो उन्होंने इस वीडियो को डिलीट कर दिया। साथ ही लोगों से इसके लिए माफी भी मांगी। उन्होंने कहा कि “मेरा जो वीडियो पोस्ट हुआ था। उसमें कहे गए एक शब्‍द का गलत अर्थ लगाया गया है, जबकि वह अपमान, धमकी या किसी की भावनाओं को चोट पहुंचाने के इरादे से कभी नहीं कहा गया था।”