आई फ़ोन का हो सकता है ये असर, आया ऐसा मामला सामने रह जाएँगे दंग

0
244
प्रतीकात्मक तस्वीर

ऐपल आई- फ़ोन जहाँ लाखों लोगों की पसंद है वहीं कम्पनी पर एक अनोखा केस दर्ज हुआ है और लगा है ऐसा इल्ज़ाम जिसे सुनकर आप भी विश्वास नहीं करेंगे। रूस में सामने आया एक ऐसा मामला जिसमें ये इल्ज़ाम लगाया गया कि एक व्यक्ति के गे बनने का कारण एप्पल आई फ़ोन है। एक रशियन ने इस मामले में नैतिक नुक़सान का मुक़दमा दायर किया है और कंपनी से 1 मिलियन रूबल (10.8 लाख रुपये)के मुआवज़े की माँग की है।

ये सुनकर अविश्वसनीय प्रतीत होता है। लेकिन यह घटना सच में घटित हुई है। रूस में एक व्यक्ति ने एप्पल आई फ़ोन कंपनी पर 1 मिलियन रूबल (10.8 रुपये) के मुआवज़े का मुक़दमा दायर किया है। और इस व्यक्ति के वक़ील का भी कहना है कि अपने सभी एप्लीकेशंस के लिए कंपनी ही ज़िम्मेदार होती है। फिर चाहें वह प्रोग्राम किसी थर्ड पार्टी के द्वारा ही क्यों ना बनाया गया हो।

इस व्यक्ति का कहना है कि उसने अपने आई-फ़ोन पर एक ऐप डाउनलोड की थी। जिसके ज़रिए उसने बिटकॉइन्स का आर्डर दिया था। लेकिन बिटकॉइन के बजाय उसे ’69 गे कॉइंस (वित्तीय ट्रांजैक्शन के आदान-प्रदान के लिए इंटरनेट आधारित माध्यम) मिले। लेकिन पैसों के साथ एक मैसेज भी आया। जिसमें लिखा था “आज़माए बिना जज ना करें।” उसने  बताया कि, उसने सोचा कि सही भी है, बिना आज़माए मैं कैसे जज कर सकता हूं। और फिर उसने समलैंगिक रिश्तों को आज़माने का फ़ैसला किया। उसका कहना है कि अब उसका एक बॉयफ्रेंड है।

अब वह व्यक्ति इस बात को लेकर परेशान है, कि अपने माता-पिता से अपने बारे में कैसे बताए। उसे लगता है कि अब शायद वह कभी नॉर्मल नहीं हो पाएगा। उस व्यक्ति ने एप्पल आईफोन कंपनी पर हेराफ़ेरी का आरोप लगाते हुए कहा है, कि कंपनी उसको समलैंगिकता की तरफ धकेलने के लिए ज़िम्मेदार है। जिसकी वजह से उसकी पूरी ज़िंदगी ही बदल गई है। और इस वजह से उसे नैतिक और मानसिक रूप से बहुत प्रताड़ित होना पड़ा है।