गृहमंत्री राजनाथ ने पाकिस्तान को उसी के घर में खरी खरी सुनायी

0
343

नई दिल्ली: सार्क सम्मेलन के लिए पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद पहुंचे भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान को आईना दिखाया। अपने संबोधन में राजनाथ ने आतंकवाद और इसका समर्थन करने वाले देशों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आह्वान किया।
उन्होंने कहा कि आतंकवादियों का ‘शहीदों’ की तरह महिमामंडन नहीं किया जाना चाहिए। पाकिस्तान में सार्क सम्मेलन के दौरान सूरत-ए-हाल पर गृहमंत्री शुक्रवार को संसद में अपना बयान देंगे।
गुरुवार को दक्षेस के गृह मंत्रियों की बैठक में राजनाथ ने कहा, ‘केवल आतंकवादियों के खिलाफ ही नहीं, बल्कि इसका समर्थन करने वाले संगठनों, व्यक्तियों तथा देशों के खिलाफ भी कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। आतंकवादी अच्छे और खराब नहीं होते। आतंकवाद बस आतंकवाद है। आतंकवादियों का शहीदों की तरह महिमामंडन नहीं किया जाना चाहिए।’
कल के घटनाक्रम में गृह मंत्री राजनाथ सिंह पाकिस्तान के गृह मंत्री चौधरी निसार अली खान की ओर से दिये गए भोज में तब शामिल नहीं हुए जब स्वयं मेजबान ही मौके से चले गए। खान ने दक्षेस देशों के गृह मंत्रियों के सातवें सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान आये गणमान्य व्यक्तियों के लिए भोज का आयोजन किया था। खान ने भोज मुख्य बैठक के बाद रखा था। यद्यपि पाकिस्तान के गृह मंत्री भोज के मेजबान होने के बावजूद बैठक के बाद कार्यक्रम स्थल से चले गए। सिंह ने उसके बाद भोज में शामिल नहीं होने का निर्णय किया। बाद में गृह मंत्री सिंह ने अपने होटल के कमरे में अपने साथ आये भारतीय प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों के साथ दोपहर का भोजन किया। भोजन करने के बाद सिंह भारत के लिए रवाना हो गए।