हेलीकॉप्टर हादसे के बाद वायुसेना प्रमुख का बड़ा बयान, बोले “कोर्ट ऑफ इंक्वायरी निष्पक्ष होगी…”

0
88

हाल ही में तमिलनाडु के कुन्नूर में हुए हेलीकॉप्टर हादसे में 14 लोगों की मौत हुई। इन लोगों में भारत के पहले चीफ ऑफ स्टाफ जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत भी मौजूद थीं। बता दें कि अब इस हादसे की पूरी तरह से जांच की जा रही है। गौरतलब हैं कि शनिवार को इस मामले को लेकर एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी (Air Chief Marshal vivek Ram Chaudhari) ने भी अपना बयान जारी किया है। उन्होंने इस दौरान घटना के प्रत्येक पहलू की जांच करने की बात कही है। चौधरी ने कहा कि तीनों सेवाओं के अधिकारियों को ले कर बनाए गए जांच दल की ‘कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी’ एक निष्पक्ष प्रक्रिया होगी।

चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी ने कहा कि “मैं कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी के परिणाम को लेकर पहले से कोई संभावना नहीं जताना चाहता, क्योंकि यह एक समग्र प्रक्रिया है।” आगे कहा कि “एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह को अधिकार दिया गया है कि हरेक पहलू की जांच की जाए और हर पहलू पर गौर किया जाए कि क्या गलत हुआ होगा और उसी आधार पर उचित सिफारिशें की जाएं तथा निष्कर्ष निकाला जाए।” बताते चलें कि इस हादसे के पेश आने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में सूचित किया था कि एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह के नेतृत्व में इस दुर्घटना की जांच शुरू करदी गई है।

हादसे की जांच को लेकर जब चौधरी से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि “मेरा मानना है कि मैं इस बारे में जल्दबाजी में कोई घोषणा नहीं करूं कि इसका (हादसे का) कारण क्या हो सकता है या हम इसके लिए क्या प्रतिकारात्मक कदम उठाने जा रहा है, इसलिए हमें कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी पूरी होने तक कुछ और सप्ताह के लिए इंतजार करना होगा। मैं आपको यह भरोसा दिलाना चाहता हूं कि यह अत्यंत निष्पक्ष प्रक्रिया है।”