फेरीवालों ने मनसे के खिलाफ खोला मोर्चा

0
164

मुंबई के फेरीवालों ने एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे और उनकी पार्टी मनसे के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। शनिवार को मुंबई के मलाड में फेरीवालों ने मनसे कार्यकर्ताओं की जमकर पिटाई कर दी जिसमें एमएनएस के स्थानीय विभाग प्रमुख सुशांत मालवदे गंभीर रूप से घायल हुए हैं, उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस घटना में सात फेरीवालों के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 यानी हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया है।

मुंबई में फेरीवालों पर मनसे के कार्यकार्ताओं का अत्याचार नया नहीं है। अक्सर सड़कों पर दुकान लगाने वाले फेरीवालों को उनकी गुंडागर्दी का सामन करना पड़ता है। फेरीवालों को लेकर काफी समय से राजनीति भी की जाती रही है। फुटपाथों पर धंधा करने वाले इन फेरीवालों को मनसे के कार्यकर्ताओं द्वारा अक्सर पीटे जाने की खबर आती है। यह पहली बार है जब फेरीवाले मनसे के खिलाफ होकर उग्र हुए हैं।

बता दें कि ये पूरा विवाद कंग्रेस नेता संजय निरुपम के उस बयान के साथ शुरू हुआ जिसमें उन्होंने फेरीवालों से कहा कि खुद को बचाने के लिए कानून हाथ में लेना पड़े तो लो लेकिन गुंड़ो से मार मत खाओ। संजय निरुपम शनिवार को मुंबई के फेरीवालों से मिलने पहुंचे थे। संजय निरुपम की सभा खत्म होते ही मनसे कार्यकर्ता एक बार फिर फेरीवालों को भागने के लिए मलाड स्टेशन पहुंचे लेकिन इस बार वो लोग खुद गुस्साए फेरीवालों के निशाने पर आ गए।