कोरोना से बिगड़ते हालात पर चर्चा, अमित शाह बोले नहीं लगेगा लॉकडाउन…

0
45

बीते साल की तरह इस साल भी कोरोना बेकाबू होता जा रहा है। बल्कि इस बार ये और भी ज्यादा खतरनाक है। इस साल एक ही दिन में 2.61 लाख से ज्‍यादा कोरोना के मामले सामने आए। जो कि अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। बढ़ते मामलों के साथ साथ देश में लॉकडाउन पर भी चर्चा होने लगी है। माना जा रहा है कि जल्दी ही पिछले साल की तरह इस साल भी देश में लॉकडाउन लगाया जाएगा। हालांकि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने फिलहाल लॉकडाउन से साफ इंकार कर दिया है। उन्होंने कहा है कि फिलहाल देश में कोई लॉकडाउन नहीं लगेगा।

लॉकडाउन को लेकर उड़ रही खबरों के बारे में जब अमित शाह से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि “हम कई स्टेकहोल्डर्स के साथ चर्चा कर रहे हैं। पिछले साल जब कोरोना आया था तब लॉकडाउन का उद्देश्य अलग था। हम बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर और उपचार की रेखा तैयार करना चाहते थे।” शाह ने कहा कि “पिछले साल हम कोरोना को लेकर तैयार नहीं थे। तब हमारे पास कोई दवा या टीका नहीं था। अब स्थिति काफी बदल चुकी है। डॉक्‍टर कोरोना को अच्‍छी तरह से समझ चुके हैं। फिर भी हम मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा कर रहे हैं।”

लॉकडाउन पर चर्चा करते हुए अमित शाह ने कहा कि “आम सहमति जो भी हो, हम उसी के अनुसार आगे बढ़ेंगे। फिलहाल जिस तरह की स्थिति दिख रही है उसे देखते हुए लॉकडाउन जैसी स्थिति नहीं दिख रही है।” बता दें कि देश में बिगड़ते हालात को देखते हुए राज्य सरकारों ने राज्य में कई तरह को पाबंदियां लगा दी हैं। कहीं नाइट कर्फ्यू लागू है तो कहीं सीमित समय तक शहरों में दुकानों को खोला जा रहा है। बता दें कि इस दौरान मास्क न पहनने पर चलन भी बढ़ा दिया गया है।