मुख्यमंत्री बोले : गांव में इमाम आए तो पुलिस को बताएं…

0
16

असम: CM हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि हमने कुछ स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर (SOP) बनाए हैं कि अगर आपके गांव में कोई इमाम आता है और आप उसे नहीं जानते हैं तो तुरंत पुलिस स्टेशन को सूचित करें, वे सत्यापित करेंगे, उसके बाद ही वे रुक सकते हैं। असम का हमारा मुस्लिम समुदाय इस काम में हमारी मदद कर रहा है।

असम पुलिस ने शनिवार की रात दो संदिग्ध आतंकियों को गोलपारा से गिरफ्तार किया था। दोनों संदिग्धों के अलकायदा भारतीय उपमहाद्वीप (AIQS) और अंसारुल्लाह बांग्ला टीम (ATB) से जुड़े होने के सबूत मिले हैं। ये संदिग्ध आतंकी मस्जिद में इमाम थे।

गोलपारा के एसपी वीवी राकेश रेड्डी ने बताया कि दोनों संदिग्धों का आतंकी संगठनों से सीधा संबंध है। घर की तलाशी के दौरान उनके अल-कायदा से जुड़े होने के सबूत मिले हैं। इसके साथ ही उनसे पोस्टर और अन्य आपत्तिजनक सामग्रियां बरामद हुई हैं। उनके मोबाइल फोन, सिम कार्ड और ID कार्ड को जब्द कर लिया गया।

अधिकारी के बताया कि दोनों संदिग्धों ने बांग्लादेश से आए जिहादी आतंकियों को राशन उपलब्ध कराया था। इसके अलावा उन्हें आश्रय भी दिया था। उन्होंने जिले में स्लीपर सेल की भर्ती के लिए AIQS के सदस्य होने की बात कबूल की है।