हिंदुत्व को दरकिनार किया भाजपा ने, त्रिपुरा में बीफ पर बैन नहीं

0
135

अगरतला। हाल ही में संपन्न त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में 25 साल से सत्ता पर काबिज सीपीआई (एम)को हराकर सरकार बनानेवाली भारतीय जनता पार्टी ने अपने हिंदुत्व के मुद्दे को दरकिनार करते हुए गौमांस पर बैन लगाने से इंकार कर दिया है। त्रिपुरा में भारतीय जनता पार्टी के प्रभारी सुनील देवधर ने कहा है कि भाजपा सरकार राज्य में बीफ पर बैन नहीं लगाएगी।

राज्य में बीफ बैन को लेकर जब देवधर से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि किसी राज्य में अगर बहुसंख्यक लोग नहीं चाहते हैं तो वहां की सरकार उस पर (बीफ पर) बैन नहीं लगाएगी, नॉर्थ ईस्ट के राज्यों में बहुसंख्यक लोग उसको खाते हैं तो वहां की सरकार उस पर प्रतिबंध नहीं लगाती। यहां ज्यादातर मुसलमान और ईसाई हैं, कुछ हिन्दू भी ये मांस खाते हैं। ऐसे में मुझे ऐसा लगता है कि उस पर कोई बैन नहीं होना चाहिए इसलिए वहां बैन नहीं है।

त्रिपुरा में जीत के बाद हाल ही में एक न्यूज चैनल से बातचीत में सुनील देवधर ने कहा था कि राज्य में संगठन खड़ा करने के लिए उन्होंने खुद पर बहुत काम किया। यहां तक कि अपनी फूड हैबिट तक में भी बदलाव करना पड़ा। बीजेपी नेता ने बताया कि उन्हें यहां पोर्क यानि सूअर का मांस भी खाना पड़ा। बीजेपी के त्रिपुरा प्रभारी सुनील देवधर नवंबर 2014 में राज्य के प्रभारी बनाए गए थे। त्रिपुरा में भाजपा की जीत में देवधर का अहम रोल माना जा रहा है।