भारत में ईरान के मंत्री का बड़ा बयान, अमरीका-ईरान संकट के..

0
233

मुंबई. ईरान और संयुक्त राज्य अमरीका के बीच इस समय हालात बेहद तनावपूर्ण हैं. भारत में विशेषज्ञ इस बात पर चर्चा करने में लगे हैं कि अगर दोनों देशों में सम्बन्ध और बिगड़ते हैं और भारत को किसी एक को चुनना होगा तो भारत किसे चुनेगा. अब इस पर ईरान के विदेश मंत्री मुहम्मद जावद ज़रीफ़ ने बड़ा बयान दिया है.

उन्होंने कहा कि दुनिया में भारत को ईरान की तरह विश्वसनीय ऊर्जा साथी नहीं मिलेगा. उन्होंने कहा कि ईरान को ऊर्जा के एक विश्वसनीय स्रोत के रूप में खोने से भारतीय अर्थव्यवस्था को भी नुकसान होगा. उन्होंने कहा, भारत की आर्थिक वृद्धि के लिए जरूरी है कि ऊर्जा के क्षेत्र में उसे ज्यादा से ज्यादा सुरक्षा मिले. मैं आपको भरोसा दिलाना चाहता हूं कि तेहरान से ज्यादा भरोसेमंद साथी आपको नहीं मिलेगा.

भारत दौरे पर आए मोहम्मद जावेद जरीफ ने कहा, हम अपने इस तरह के व्यापारिक रिश्तों में राजनीति को नहीं घुसाते हैं. अगर हम ऐसा कर पाते हैं तो भारत के साथ राजनीतिक रिश्ते में भी कोई समस्या नहीं है. हम भारत के लिए ऊर्जा का सुरक्षित स्रोत हैं. बता दें कि पिछले साल से भारत ने ईरान से तेल का आयात बंद कर दिया है, क्योंकि अमेरिका ने उसके खिलाफ प्रतिबंध बढ़ा दिए हैं. ईरान के मंत्री ने कहा, भारत को ऊर्जा के स्रोतों के विविधीकरण की भी आवश्यकता है.