भारत में जल्दी ही होगा इन दो विदेशी वैक्सीन का इस्तेमाल, सरकार से…

0
81

देश में बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच वैक्सीन को लेकर लगातार कई खबरें सामने आ रही हैं। वैक्सीन की कमी के कारण देश के कई इलाकों में वैक्सीनेशन केंद्र भी बंद किए जा चुके हैं। बता दें कि देश में कोरोना से बचाव के लिए फिलहाल 2 वैक्सीन (कोविशेल्ड और कोवैक्सिन) का इस्तेमाल किया जा रहा है। लेकिन अब बता दें कि देश में जल्दी ही रूस से आई वैक्सीन का भी इस्तेमाल शुरू किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक रूस से भारत वैक्सीन की कुछ डोज आ चुकी हैं। जिसका इस्तेमाल जल्दी ही होगा।

इस बीच एक और बड़ी खबर सामने आई है। बताया जा रहा है कि देश में फाइजर और मॉडर्ना (Pfizer, Moderna) को भी जल्दी ही इस्तेमाल में लिया जा सकता है। खबर के मुताबिक देश में वैक्सीनेशन में तेज़ी लाने के लिए केंद्र सरकार इन दोनों वैक्सीन को इस्तेमाल में ली सकती है। सूत्रों का कहना है कि सरकार फाइजर और मॉडर्ना (Pfizer, Moderna) को हर्जाने के मुद्दे पर भी छूट दे सकती है। एक सरकारी अधिकारी ने अपने बयान में कहा कि “भारत में फार्मा कंपनियों को क्षतिपूर्ति देने में कोई समस्या नहीं है। दोनों वैक्सीन्स को इस्तेमाल करने वाले देशों ने जिस आधार पर इनको अनुमति दी है, वही रास्ता भारत भी अख्तियार करेगा।”

बता दें कि भारत में ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने विदेशी कंपनियों के लिए वैक्सीन लॉन्च से पहले जरूरी ब्रिजिंग ट्रायल को समाप्त कर दिया है। इसके तहत अगर किसी कंपनी की वैक्सीन को किसी भी देश में मंजूरी मिली हुई है तो उसको इस्तेमाल के लिए जांच भी नहीं करवानी होगी। डीसीजीआई ने कहा कि “NEGVAC की सिफारिश के अनुसार यह निर्णय लिया गया है कि यूएस एफडीए, ईएमए, यूके एमएचआरए, पीएमडीए जापान के वैक्सीन को भारत मेंआपातकालीन स्थिति में प्रतिबंधित उपयोग के लिए अनुमति दी जाएगी।”