बहती गंगा में मिली इस बच्ची का पूरा पालन पोषण करेगी योगी सरकार, साथ ही नाविक को भी…

0
88

उत्तर प्रदेश में एक 21 दिन की बच्ची चर्चा का विषय बनी हुई है। दरअसल, उत्तर प्रदेश के गाजीपुर (Ghazipur) जिले में गंगा नदी में बहते एक बक्से में एक 21 दिन की बच्ची मिली है। बता दें कि एक नाविक ने इस बक्से को बहता हुआ देखा। जब वह पास गया तो उसमें से किसी बच्चे के रोने की आवाज आ रही थी। जिसको सुनते हुए वह बक्से के और भी करीब चला गया। जब बक्से को खोला तो उसमें 21 दिन की ये बच्ची मिली। बक्से में बच्ची के साथ साथ देवी-देवताओं के फोटो और जन्मकुंडली भी मौजूद थी। इस बात की खबर जब पुलिस को मिली तो पुलिस ने नवजात बच्ची को आशा ज्योति केंद्र पहुंचा दिया। वहां इस बच्ची की देख भाल की जा रही है।

बताया जा रहा है कि बच्ची को आशा ज्योति केंद्र पहुंचने के बाद पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है। खबर है कि पुलिस के साथ साथ राज्य बाल संरक्षण आयोग ने भी इस मामले में संज्ञान लेने का फैसला किया है। बता दें कि इस मामले की खबर राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक पहुंच गई है। सीएम योगी ने इस मामले की खबर होते ही एक बड़ी घोषणा कर दी है। सीएम योगी का कहना है कि नवजात कन्या ‘गंगा’ का पालन पोषण और पूरा खर्चा राज्य सरकार उठाएगी।

इसके साथ ही सीएम योगी ने एक और बड़ा फैसला लिया। सीएम ने इस बच्ची को बचाने वाले नाविक को भी सरकार की ओर से आवास और सभी सरकारी सहायता देने के भी निर्देश है। बता दें कि लकड़ी के बक्से में मिली इस बच्ची को नाविक अपने घर ले गया था। बच्ची को देख कर नाविक के घर वालों ने बच्ची को पालना चाहा। लेकिन पुलिस ने वहां पहुंचकर बच्ची को आशा ज्योति केंद्र पहुंचा दिया।