बाबा रामदेव के खिला’फ हुई महाराष्ट्र सरकार, कहा बिना जांच के….

0
519

कोरो’ना वाय’रस संक्र’मण के बढ़ते खतरे को मद्देनजर रखते हुए सरकार अपनी तरफ से पूरी कोशिश कर रही हैं और इसी के चलते कोरो’ना वाय’रस (Coronavirus) की दवा को लेकर स्वामी रामदेव (Swami Ramdeva) की मु’श्किलों में इज़ाफ़ा होता जा रहा है। इसी के चलते महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Desmukh) ने स्वामी रामदेव (Swami Ramdeva) को चे’तावनी देते हुए कहा कि बिना किसी सही क्नीनिकल ट्रायल के उनकी कंपनी को कोरो’ना वाय’रस (Coronavirus) की दवा बेचने की इजाज़त नहीं दी जाएगी। सूत्रों से बताया जा रहा है कि स्वामी रामदेव (Swami Ramdeva) की कंपनी पतंजलि ने COVID-19 की दवा कोरोनिल मंगलवार को इजाद करने का दावा करते हुए इसे लॉन्च किया था। और बताया जा रहा है कि पतंजलि आयुर्वेद की इस दवा पर कई लोगों ने सवाल भी उठाए हैं।

इसी के चलते महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Desmukh) ने कहा है कि इस तरह की फे’क दवाइयों को महाराष्ट्र के अंदर बेचने की परमिशन नही दी जा सकती। इसी के चलते गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Desmukh) ने अपने ट्वीटर अककॉउंट पर ट्वीट किया कि, “नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस जयपुर ये पता लगाएगी कि क्या पतंजलि आयुर्वेद ने कोरोनिल दवा के लिए क्नीनि’कल ट्रायल्स किए थे या नहीं। मैं बाबा रामदेव को कड़ी चे’तानवी देता हूं कि महाराष्ट्र सरकार ऐसी नकली दवाई बेचनी की इजाजत नहीं देगी।

सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि केंद्रीय आयुष मंत्रालय द्वारा भी इस दवा को लेकर टिप्पणी की है और आयुष मंत्रालय द्वारा पतंजलि को नोटिस भेज कर फ़ौरन ही दवा के प्रचार-प्रसार को रोकने के आदेश दिए हैं। आयुष मंत्रालय का ये भी कहना था कि बिना आईसीएमआर (ICMR) की प्रमाणिकता के फार्मेसी ऐसा दावा कैसे कर सकती है। इसी के चलते केंद्र ने उत्तराखंड के आयुष विभाग को भी पत्र भेजकर मामले से जुड़ी सारी जानकारी मांगी है।
सूत्रों से बताया जा रहा है कि इससे पहले भी कंपनी को सर्दी-जुका’म की दवा बनाने का लाइसेंस भी जारी किया गया था। लेकिन इसी के चलते स्वामी रामदेव की कंपनी पतंजलि ने कोरो’ना वाय’रस की दवा बना दी और बताया जा रहा है कि स्टेट ड्रग कंट्रोलर ने दिव्य योग फार्मेसी को नोटिस जारी कर दिया है। और स्टेट ड्रग कंट्रोलर ने उस नोटिस में पूछा गया है कि दिव्य योग फार्मेसी ने कोरो’ना वाय’रस की जो दवा बनाने का दावा किया है उसका आधार क्या है?

बताया जा रहा है कि स्वामी रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद ने कहा है कि कोरोनिल किट 545 रुपये में उपलब्ध होगी। बताया ये भी जा रहा है कि स्वामी रामदेव ने कोरो’ना की दवाई कोरोनिल किट लॉन्च करते हुए कहा कि, “पूरा देश और दुनिया जिस क्षण की प्रतीक्षा कर रहा था आज वो आ गया है। कोरो’ना की पहली आयुर्वेदिक दवा तैयार हो गई है। इस दवा से हम कोरो’ना की हर तरह की जटिलता को नियंत्रित कर पाए। इस दवा से तीन दिन के अंदर 69 फीसदी म’रीज रिकवर हो गए यानी पॉजिटिव से निगेटिव हो गए। ” बाबा रामदेव ने कहा, “इस दवा के जरिए 7 दिन में 100 फीसदी म’रीज ठीक हुए हैं। इस दवा का ट्रायल 280 लोगों पर किया गया है। “