अरुणाचल प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री की संदिग्‍ध हालत में मौत

0
144

अरुणाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कलिखो पुल का शव उनके घर में पंखे से लटका मिला. 47 साल के कलिखो पुल के सुसाइड का संदेह जताया जा रहा है.
बताया जा रहा है कि कलिखो पुल ने रात को सुसाइड किया. उस वक्त उनकी पत्नी घर के दूसरे कमरे में थीं. वो मुख्यमंत्री पद छोड़ने के बावजूद अब भी सीएम बंगले में अपने पांच बच्चों के साथ रह रहे थे. युवा कलिखो पुल इस साल 19 फरवरी से 13 जुलाई तक अरुणाचल के मुख्यमंत्री रहे थे. लेकिन अरुणाचल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद उन्हें अपना पद छोड़ना पड़ा था. बीजेपी के समर्थन से वे राज्य के सीएम बने थे. बताया जा रहा है कि वे कुछ समय से डिप्रेशन में थे.
कलिखो पुल 1995 के बाद से लगातार पांच बार विधानसभा चुनाव जीते थे. अंजॉ जिले के हवाई से आने वाले कलिखो मुख्यमंत्री गेगांग अपांग के कार्यकाल (2003-2007) में वित्त मंत्री रहे. पांच बच्चों के पिता पुल कमान मिश्मी से ताल्लुक रखते थे. इस समुदाय की कुल आबादी लगभग 2,500 है. पुल कई बार मंत्री भी रहे थे. 1995 से 1997 तक वे वित्त उपमंत्री रहे, उसके बाद 1997-99 तक बिजली राज्य मंत्री रहे. इसके बाद 1999-2002 तक वित्त राज्य मंत्री और 2002 से 2003 तक भूमि प्रबंधन के राज्य मंत्री रहे. 2003 से 2005 तक पुल ने वित्त मंत्रालय संभाला. उन्हें एक उच्चस्तरीय समिति का अध्यक्ष भी बनाया गया था. लगभग एक साल तक वे मुख्यमंत्री के सलाहकार भी रहे.