प्रधानमंत्री बने तो सबसे पहले क्या करेंगे? राहुल गांधी ने गिनाए ये काम

0
15

कांग्रेस नेता राहुल गांधी इन दिनों भारत जोड़ो यात्रा पर हैं। वह लगातार जनसभाओं और मीडिया को भी संबोधित कर रहे हैं। इस दौरान राहुल बहुत ही सधे हुए नजर आ रहे हैं और हर सवाल का बहुत ही बारीकी से जवाब दे रहे हैं। शनिवार को भी वह कांग्रेस मुख्यालय पर मीडिया से मुखातिब हुए। इस दौरान उन्होंने कई पत्रकारों के कई सवालों का जवाब दिया।

एक सवाल से राहुल गांधी चौँक गए और उन्होंने बहुत ही शालीनता और समझदारी से उसका जवाब दिया। दरअसल, राहुल गांधी से पूछा गया था कि अगर वह देश के प्रधानमंत्री बन जाएंगे तो सबसे पहले तीन काम क्या करेंगे? इसके जवाब में राहुल गाँधी ने कहा कि वे सबसे पहले देश में शिक्षा की संरचना बनाना चाहूंगा। हमारा एजुकेशन सिस्टम सही तरीके से काम ही नहीं कर रहा है।

वह बच्चों को कोई विजन ही नहीं दे पा रहा है। उन्होंने कहा, भारत जोड़ो यात्रा के दौरान मैंने हजारों बच्चों से बात की। सबसे पूछा कॉलेज खत्म करने के बाद तुम क्या करना चाहते हो। मुझे बस पांच जवाब मिले- डॉक्टर, लॉयर, इंजीनियर, पायलट, आइएएस। राहुल ने कहा, 99.9 प्रतिशत बच्चे यही जवाब दे रहे हैं। यानी हमारा एजुकेशन सिस्टम उन बच्चों को बता रहा है कि आप इन पांच काम के अलावा कुछ नहीं कर सकते।

राहुल गांधी ने कहा, हम बिना स्किल का सम्मान किए युवाओं को रोजगार नहीं दे सकते हैं। फिर चाहें वह कोई भी हो। अभी हम, जिसके पास स्किल है उसकी मदद नहीं करते हैं। उसकी स्किल को खत्म करने की कोशिश करते हैं।  राहुल गांधी ने कहा, हमें देश में भाईचारे, एकता और प्रेम की भावना का प्रसार करना है।

इसका असर देश की सीमाओं पर भी पड़ता है।देश में हिंसा, नफरत का असर दूसरे देश देखते हैं, उसका फायदा उठाते हैं। हमारी विदेश नीति बहुत भ्रमित करने वाली है। उससे हमें  जबरदस्त नुकसान होगा। मैं कोरोना के समय भी ऐसा ही कह रहा था।