बड़ी खबर : मौसम दे रहा डरावने संकेत, वैज्ञानिकों ने भी चेताया, पढ़ें पूरी खबर

0
97

मौसम के तेवर इस बार बदले-बदले नजर आ रहे हैं। पारा डरा रहा है। आसमान से इस बार आग बरस सकती है। वैज्ञानिक लगातार इस बात की ओर इशारा कर रहे हैं। चेतवानी दे रहे हैं। फरवरी माह में ही मार्च जैसे हालात नजर आ रहे हैं। गर्मी ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने आने वाले दिनों में भी मौसम के मिजाज में गर्मी रहने के पूरे संकेत दिए हैं. IMD वैज्ञानिक नरेश कुमार के मुताबिक इस वक्त उत्तर पश्चिम भारत, मध्य भारत और यहां तक कि पश्चिम भारत में तापमान सामान्य से ऊपर है.

IMD वैज्ञानिक नरेश कुमार का कहना है कि देखा जाए तो अभी अधिकतम तापमान उत्तर पश्चिम भारत, मध्य भारत और यहां तक कि पश्चिम भारत में सामान्य से ऊपर जा रहा है. उनका कहना है कि अगर हम उत्तर पश्चिम भारत की बात करें तो आमतौर पर पश्चिमी विक्षोभ तापमान के मामले में भी बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.

उनका कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ ने अभी हमारे क्षेत्र को प्रभावित किया है और ये ऊंचे इलाकों में वर्षा होने की वजह बना है. पिछले कई दिनों से उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में मौसम खास तौर से शुष्क था.इसलिए आसमान साफ है जो इस क्षेत्र में बढ़ते तापमान की प्रवृत्ति के लिए अनुकूल है. मौसम के शुष्क होने से आगे भी तापमान बढ़ने के आसार हैं.

राजधानी दिल्ली में तापमान के बढ़ने ने 55 साल में 3 बार रिकॉर्ड कायम किया है. सोमवार (20 फरवरी) को राजधानी दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से 9 डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया. राजधानी का अधिकतम तापमान 33.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. ये साल 1969 के बाद से फरवरी का तीसरा सबसे गर्म दिन दर्ज किया गया. मौसम विभाग ने आने वाले 5 दिनों में उत्तर पश्चिम भारत, मध्य भारत और पश्चिमी भारत में अधिकतम तापमान के सामान्य से 3 से 5 डिग्री सेल्सियस बढ़ने की भविष्यवाणी की है.