‘सनातन का व‍िरोध करने वाले रावण के खानदान के हैं, जानें किसने कहा?

0
44

बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्रकृष्ण शास्त्री ने कहा क‍ि वृंदावन ऋषि मुनियों की साधना भूमि है। हमारी इच्छा है पूरे ब्रजतीर्थ क्षेत्र से मदिरा का विक्रय बंद होना चाहिए। भगवान श्रीकृष्ण जन्मभूमि पर कहा क‍ि अब केवल श्रीकृष्ण जन्मभूमि की ही तैयारी है। सनातन के खिलाफ स्टालिन के बयान पर कहा ये धूर्त, मूर्ख लोग हैं, रावण के खानदान के लोग हैं। इन पर टिप्पणी करना हमारे लिए उचित नहीं। सनातन कभी खत्म होने वाला नहीं। देश हिंदू राष्ट्र बनकर ही रहेगा।

ऋषि पंचमी पर आयोजित सप्तऋषि पूजन महोत्सव में शामिल होने पहुंचे बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्रकृष्ण शास्त्री ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, मलूकपीठाधीश्वर स्वामी डॉ. राजेंद्रदास महाराज ऋषि परंपरा के सिरमौर हैं। भारत की अद्भुत विभूति हैं, ऋषि परंपरा का दर्शन करना है, तो मलूकपीठाधीश्वर राजेंद्रदास महाराज के दर्शन करें।

ब्रजवासियों से हमारी एक ही अपील है कि पूरे ब्रजतीर्थ क्षेत्र से मदिरा का विक्रय बंद हो जाए, तो हमारी ब्रजभूमि पवित्र रहेगी। मलूकपीठाधीश्वर डा. राजेंद्रदास के जन्मोत्सव पर हमारी यही प्रार्थना है। कहा राममंदिर बनने जा रहा है और अब श्रीकृष्ण जन्मभूमि की तैयारी है।

हिंदू जाग रहा है, वह एक हो रहा है, संत एक मंच पर आ रहे हैं। इन विचारों के पेट में दर्द हो रहा है। हिंदू राष्ट्र के प्रयास के सवाल पर कहा क‍ि हिंदू राष्ट्र बनकर रहेगा। ये केवल प्रयासभर नहीं है।