राजपथ पर आसमान की ओर देखते रह गए सब, पहली बार लड़ाकू विमान राफेल ने किया…

0
44

जैसा कि सभी लोग जानते हैं आज भारत में 72वां गणतंत्र दिवस (72nd Republic Day) मनाया जा रहा है। हर साल की तरह इस साल भी पूरा देश मिल झुल कर गणतंत्र दिवस मना रहा है। ऐसे में सबकी नजर दिल्ली के राजपथ पर रहती है। क्यूंकि राजपथ पर हर साल गणतंत्र दिवस पर भारतीय वायु सेना के फाइटर प्लेन से अलग अलग तरह के करतब दिखाए जातें हैं। यहां भारत के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति भी मौजूद रहते हैं। पहले भारत का झंडा लहराया जाता है फिर ये करतब शुरू किए जाते हैं।

हर साल की तरह इस साल भी ऐसा ही हुआ। लेकिन इस बार सब लोग हैरान रह गए। क्योंकि इस बार की परेड का समापन एक खास विमान के करतब से हुआ। बता दें कि हाल ही में भारतीय वायु सेना में लड़ाकू विमान राफेल शामिल हुआ है। भारत की वायुसेना में शामिल हुए राफेल ने ही खास करतब ‘वर्टिकल चार्ली’ (Vertical Charlie) परफॉर्म किया। राफेल के साथ दो जगुआर, दो मिग-29 लड़ाकू विमान थे। फॉरमेशन के कप्तान ग्रुप कैप्टन रोहित कटारिया, फ्लाइट लेफ्टिनेंट 17 स्कवाड्रन हैं।

सबसे खूबसूरत नज़ारा तब आया जब लड़ाकू विमान राफेल ने उड़ान भरी। इस वक्त सबकी नज़रें सिर्फ आसमान पर रहीं। बता दें कि युद्ध स्थल पर लड़ाकू विमान दुश्मनों का सफाया करने के साथ-साथ खुद को बचाने के भी प्रयास करते हैं। हर पायलट अपने विमान को बचाने के लिए कई तरह के करतब दिखाता है ताकि दुश्मन उस पर सीधा निशाना न लगा सके। इसी में एक करतब को वर्टिकल चार्ली फॉर्मेशन कहते हैं। गणतंत्र दिवस के मौके पर विमान बहुत नीचे उड़ता है और एक जगह पर आकर तेजी से ऊपर की ओर जाता है। इसके साथ ही विमान फ्लेयर यानी चमकीली रोशनी छोड़ते हैं। राफेल ने 900 किमी की रप्तार से उड़ान भरी। जिसको देख सभी लोग हैरान रह गए।