राहुल हैं 'बैटिंग मशीन' : जानिए विराट कोहली के सामने क्या है मुश्किल

0
130

नई दिल्ली: केएल राहुल ने जमैका में टेस्ट करियर का तीसरा शतक जड़ा। तीसरा शतक उन्होंने छक्के के साथ पूरा किया और वीरेंद्र सहवाग की याद दिला दी। इस शॉट को देख वीरू भी ट्विटर पर चहक उठे। सहवाग ने ट्वीट किया कि “सर्वश्रेष्ठ दबंगगिरी जारी है। बीते महीने छक्के के साथ वनडे शतक पूरा किया। अब छक्के के साथ टेस्ट शतक पूरा किया। तीनों टेस्ट शतक विदेशी ज़मीन पर।”
वैसे राहुल ने सहवाग की तरह बल्लेबाजी ही नहीं की बल्कि उनकी तरह मैच के बाद बयान भी दिया। मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में केएल राहुल ने कहा कि अगर गेंद मारने वाली होती है तो मैं मारता हूं। यह रणनीति हर फॉर्मेट में मेरे लिए काम करती है और बदलती नहीं है।
छठे टेस्ट मैचों में राहुल के नाम अब तीन शतक हो गए हैं। वह पिछले 3-4 महीनों से गजब की फ़ॉर्म में हैं। जमैका में उन्होंने 158 रनों की पारी खेली, इस पारी में उन्होंने 15 चौके और 3 छक्के लगाए। ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका में वह टेस्ट शतक लगा चुके हैं। ज़िम्बाब्वे के दौरे पर उन्होंने 196 की औसत से रन बनाए। पिछला IPL का सीज़न भी उनके लिए अच्छा गया।
केएल राहुल के मुताबिक, जमैका में मेरे लिए ज्यादा मुश्किल नहीं था, मैंने शुरुआत से ही गेंद को मारना शुरू कर दिया था। मैं चीज़ों को सरल रखता हूं, जो गेंद मारने के लिए होती है मैं उस पर रन बनाने की कोशिश करता हूं।”
राहुल के शतक से कप्तान कोहली की टेंशन बढ़ गई है, क्योंकि मुरली विजय के चोटिल होने के कारण उन्हें टीम में जगह मिली थी, अब विजय के फ़िट होने के बाद राहुल को कहां और कैसे फिट किया जाए यह फैसला आसान नहीं होगा।