पूर्व राष्ट्रपति की हालत हुई और गंभीर, डॉक्टरों ने कहा ‘गहरे कोमा में…’

0
298

भारत के समेत पूरी दुनिया के लोगों को कोरोना संकट ने परेशान कर दिया है। अब लोग इससे बहुत परेशान आ गए हैं और बस अब इससे छुटकारा पाने की कोशिश में हैं। ऐसे में इस वायरस के शिकार हुए लोग भी बहुत परेशान हैं और इसकी कैद से मुक्त होना चाहते हैं। बता दें कि कुछ समय पहले ही कोरोनावायरस के शिकार हुए भारत के पूर्व रष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की सेहत दिन ब दिन बिगड़ती जा रही है। आर्मी रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पिटल में उनका इलाज कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि प्रणब मुखर्जी गहरे कोमा में चले गए हैं और लगातार वेंटिलेटर सपोर्ट (ventilator support) पर ही हैं।

आर्मी रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पिटल द्वारा जारी बुलेटिन में कहा कि “पूर्व राष्ट्रपति पिछले 17 दिनों से अस्पताल में भर्ती हैं और ब्रेन सर्जरी के बाद लगातार गंभीर स्थिति से गुजर रहे हैं।” अस्पताल के अधिकारियों द्वारा बताया जा रहा है कि प्रणव मुखर्जी के फेफड़ों (Lungs) में इंफेक्शन हो गया है जिसका लगातार इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि पूर्व राष्ट्रपति के गुर्दों की भी हालत ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि “उनकी हालत ‘हीमोडायनेमिकली स्टेबल’ बनी हुई है।” इसका मतलब ये है कि प्रणब मुखर्जी का दिल ठीक से काम कर रहा है और शरीर में रक्त का संचार भी सामान्य है।

बता दें कि 10 अगस्त को प्रणव मुखर्जी दोपहर एक सर्जरी कराने के लिए अस्पताल में भर्ती हुए थे। जिसके बाद जांच में पता चला कि वह कोरोनावायरस से संक्रमित हैं। जिसके चलते उनको जब से अब तक भर्ती रखा गया है और स्पेशलिस्ट डॉक्टरों की एक टीम लगातार उनकी निगरानी कर रही है। बता दें कि पिछले हफ्ते प्रणब मुखर्जी के फेफड़ों में संक्रमण की शिकायत मिली थी, जिसके बाद उनकी हालत ज्यादा खराब हो गई।