PM नरेंद्र मोदी ने बताया ‘आ’त्मनि’र्भर भारत’ का असल मतलब, कहा भारत आयात….

0
273

कोरो’ना वाय’रस वैश्विक महामा’री ने पूरी दुनिया में कोहरा’म मचा रखा है और यह वाय’रस (COVID 19) दुनिया के ज़्यादातर देशों को संक्र’मित कर चुका है। वही भारत में भी कोरो’ना वायर’स(COVID 19) के संक्र’मण की गति बढ़ती जा रही है इसी के चलते भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendr Modi ) ने कोरो’ना वाय’रस वैश्विक महामा’री (Coronavirus Pandemic) के चलते भारत के सभी देशवासियों से कहा कि, भारत कोरो’ना से ल’ड़ेगा भी और आगे बढ़कर जीतेगा भी। सूत्रों से बतया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendr Modi ) ने गुरुुुवार को वाणिज्यिक खनन के लिए जो 41कोयला खदानों ( Coal Mine ) की नीलामी करने के दौरान ये कहा कि, आत्‍मनिर्भर भारत (Atma Nirbhar Bharat) का मतलब यह है कि देश आयात पर निर्भरता को कम करेगा। आज हम जिन चीजों का आयात करते हैं, उसी के सबसे बड़े निर्यातक बनेंगे। आज कोयला खदानों में वाणिज्यिक खनन के ज़रिये हम कोयला क्षेत्र को दशकों के लॉ’कडा’उन से बाहर निकाल रहे हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendr Modi ) ने यह भी कहा कि मामला तो कोयले का है पर हीरे के सपने देखकर चलना है।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendr Modi ) ने कोयला खदानों( Coal Mine ) को मद्देनजर रखते हुए उन्होंने कहा कि, जो देश कोयला भंडार के हिसाब से दुनिया का चौथा सबसे बड़ा देश हो, जो दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक हो, वह देश कोयले का निर्यात नहीं करता, बल्कि वह देश दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा कोयला आयातक है और प्रधानमंत्री का कहना यर भी था कि साल 2014 के बाद इन हालात को और बेहतर बनाने के लिए एक के बाद एक कई ज़रूरी क़दम उठाए गए। और कहा कि जिस कोल लिंकेज की बात कोई सोच नहीं सकता था, वो हमने करके दिखाया और ऐसे कदमों के कारण कोल सेक्‍टर को मजबूती भी मिली। इसी मुद्दे में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोयला निकालने से लेकर परिवहन (Transportation) को भी बेहतर बनाने के लिए जो आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर(advance infrastructure) तैयार किया जाएगा, उससे भी रोज़गार मिलने के मौके भारत के युवाओँ को प्राप्त होंगें, और वहां रहने वालों को और भी सुविधाएं मिलेंगी।

इसी दौरान भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendr Modi ) ने अपनी स्पीच (speach) में कहा कि, अब भारत ने कोल(COAL) और माइनिंग सेक्टर(MINING SECTORS) को प्रति‍स्‍पर्धा, भागीदारी और टेक्‍नोलॉजी के लिए पूरी तरह से खोलने का बहुत बड़ा फैसला लिया है। साथ ही उन्होंने कहा कि कोयला प्रोडक्‍शन बढ़ाने से विद्युत उत्‍पादन (Power Generation) के साथ ही स्‍टील, एल्‍युमीनियम, फर्टिलाइजर औरसीमेंट जैसे सेक्टरों में उत्‍पादन (Production) और प्रसंस्‍करण (Processing) पर भी इसका सकारात्‍मक प्र’भाव पड़ता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendr Modi ) ने अपनी देश की अवाम से कहा, “आप अपना विश्वास, अपना हौसला बुलंद रखिए, हम ये कर सकते हैं। हम आत्मनिर्भर भारत बन सकते हैं। हम आत्मनिर्भर भारत बना सकते हैं।”