निर्भ’या बला’त्कार और ह’त्या माम’ले में आया कोर्ट का नया फै’सला..

0
113

पटियाला हाउस को’र्ट ने सोमवार को निर्भ’या बला’त्कार और ह’त्या माम’ले के चारों दो’षियों के लिए नया और तीसरा डे’थ वा’रंट जारी किया। चारों को तीन मार्च को सुबह छह बजे तिहाड़ जे’ल में फां’सी दी जायेगी। यह तीसरा डे’थ वा’रंट है। इससे पहले 22 जनवरी को और फिर एक फरवरी को फां’सी के लिए डे’थ वा’रंट जारी हो चुके हैं।

निर्भ’या की मां आशा देवी ने कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि 3 मार्च को दो’षियों को फां’सी दे दी जाएगी। उन्होंने कहा कि न्याय में देर होती है, अंधे’र नहीं। उन्होंने न्यूज एजेंसी से बात करते हुए कहा कि “मैं बहुत खुश नहीं हूं, क्योंकि यह तीसरी बार है जब डे’थ वा’रंट जारी किया गया। हमने अब तक बहुत संघ’र्ष किया है, इसलिए मैं संतु’ष्ट हूं कि आखिरकार डे’थ वा’रंट जारी किया गया है। मुझे उम्मीद है कि दो’षियों को 3 मार्च को फां’सी दी जाएगी।”

उध’र, दो’षियों के वकील एपी सिंह ने कहा कि अभी कानूनी वि’कल्प बाकी हैं और इनका इस्तेमाल न किए जाने को इं’साफ देने में ना’कामी कहा जाएगा। उन्होंने बताया कि दोषी पवन क्यूरेटिव पिटीशन और मर्सी पिटीशन लगाना चाहता है। दुष्क’र्मी अक्षय भी गुना’ह के वक्त अपने नाबालिग होने को लेकर नई याचिका दाखिल करना चाहता है।

सुनवाई के दौरान कोर्ट में जानकारी दी गई कि गुनहगा’र विनय शर्मा तिहाड़ में भूख हड़’ताल कर रहा है। दो’षी मुकेश सिंह ने कोर्ट से कहा कि वह नहीं चाहता कि वृंदा ग्रोवर उसकी तरफ से पैरवी करें। इसके बाद कोर्ट ने उसके लिए वकील रवि काजी को नियुक्त किया। विनय के वकील ने कोर्ट से कहा कि मेरा मुवक्किल मान’सिक रूप से काफी बीमा’र है, लिहाजा उसे इस वक्त फां’सी नहीं दी जा सकती।

निर्भ’या के माता-पिता और दिल्ली सरकार की अर्जि’यों पर अदालत सुनवाई कर रही है। उच्चतम न्यायालय ने अधिकारियों को यह भी छू’ट दी थी कि वे इन मुज’रिमों को फां’सी पर चढ़ाने की नई तारीख जारी करने की मांग को लेकर निच’ली अदालत जा सकते हैं।