NCP प्रमुख शरद पवार बोले- दिल्ली दरबार के आगे कभी नहीं झुकेंगे

0
17

नई दिल्ली : NCP अध्यक्ष शरद पवार ने रविवार को दो टूक कहा कि उनकी पार्टी दिल्ली में मौजूद शासकों के सामने कभी नहीं झुकेगी। उन्होंने BJP को सत्ता से बेदखल करने के लिए अन्य सभी दलों से एक बार फिर मिलकर काम करने का आह्वान किया। वे दिल्ली में आयोजित राकांपा के आठवें राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

पवार ने कहा कि छत्रपति शिवाजी कभी दिल्ली के शासकों के सामने नहीं झुके और NCP उस रास्ते पर ही चलती आई है और उसने खुद को एक प्रगतिशील राष्ट्रीय पार्टी के रूप में स्थापित किया है। पवार की यह टिप्पणी ऐसे समय आई है जब कई विपक्षी नेता CBI, ED जैसी जांच एजेंसियों का सामना कर रहे हैं। राकांपा नेता नवाब मलिक और अनिल देशमुख न्यायिक हिरासत में हैं।

शरद पवार ने कहा कि केंद्र सरकार CBI और ED का गलत इस्तेमाल कर रही है। विरोधी नेताओं को झूठे केसों में फंसा रही है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि हमें बड़ी लड़ाई लड़नी है। प्रजातांत्रिक तरीके से मोदी सरकार को चलता करना है। इस दौरान पवार ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार को महंगाई, बेरोजगारी और देश में धार्मिक अल्पसंख्यकों के खिलाफ नफरत फैलाने के मुद्दे पर आड़े हाथों लिया।

पार्टी महासचिव प्रफुल पटेल ने कहा कि शरद पवार प्रधानमंत्री पद की दौड़ में शामिल नहीं हैं। उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों को एकजुट करने में पवार अहम भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने कहा कि आगामी आम चुनाव में राकांपा बड़ी भूमिका में होगी। NCP महासचिव प्रफुल्ल पटेल आगे कहा कि हमारी पार्टी आगामी आम चुनावों में अहम भूमिका निभाएगी। लेकिन पार्टी का रुख एकदम स्पष्ट है कि विपक्ष को एकजुट होने की जरूरत है। उन्होंने कहा हम भी यूपीए सरकार का हिस्सा थे इसलिए कांग्रेस से हमारी कोई लड़ाई नहीं है।