मुंडका अग्निकांड से जुड़ी कुछ जरूरी बातें, 27 की मौत और 50 के करीब लोग घायल…

0
54

दिल्ली के पश्चिमी इलाके में मुंडका में पेश आए दर्दनाक हमसे से हर कोई हैरान हैं और मरने वालों की आत्मा की शांति की प्रार्थना कर रहा है। बता दें कि दिल्ली के मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास मौजूद एक चार मंजिला इमारत में आग लग गई, आग इतनी भीषण थी कि लोग अपनी जान बचाने के लिए बिल्डिंग से नीचे ही कूद गए। बताते चले कि इमारत में एक कंपनी का कार्यालय मौजूद था। पहली मंजिल पर मैन्युफैक्चरिंग युनिट थी, जबकि दूसरी मंजिल पर वेयर हाउस और तीसरी पर लैब थी। आग कार्यालय से शुरू होकर पूरी बिल्डिंग में फेल गई।

जानकारी के अनुसार इस दौरान दूसरी मंज़िल पर मोटिवेशनल स्पीच चल रही थी और इस प्रोग्राम में कई लोग शामिल थे। बताते चलें कि इस कार्यकर्म में सीसीटीवी कैमरा और राउटर निर्माता कंपनी के मालिकों के पिता पिता अमरनाथ गोयल भी मौजूद थे। बाकी लोगों के साथ वह भी इस हादसे का शिकार हो गए और अपनी जान गवां बैठे। कंपनी के दोनों मालिकों वरुण और हरीश गोयल को गिरफ्तार कर लिया गया है। लेकिन फिलहाल बिल्डिंग का मालिक पुलिस के हाथ नहीं लगा है।

हादसे में अब तक 27 लोगों की मौत की खबर सामने आ रही है। वहीं, खबर है कि अब तक 50 से अधिक कर्मचारियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है, जिनमें कई घायल हैं। बचाव कार्य अभी भी जारी है, क्योंकि पुलिस का मानना है कि अभी भी कुछ लोग बिल्डिंग में मौजूद हैं। बता दें कि मामले में IPC की धारा 304/308/120/34 के तहत केस दर्ज किया है। आग पर अब पूरी तरह काबू पा लिया गया है।

इस हादसे के पेश आने के बाद कई राजनेताओं ने आग लगने से हुई लोगों की मौत पर शोक जताया है। इनमें देश के प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति और दिल्ली के मुख्यमंत्री भी मौजूद हैं। प्रधानमंत्री ने इस मामले पर दुख जाहिर किया है। साथ ही हादसे में मरने वाले लोगों को 2-2 लाख रुपए देने की बात कही है। इसके अलावा घायलों को 50-50 हजार रुपए की मदद देने का वादा किया है।