राष्ट्रपति मुर्मू की सुरक्षा में चूक, गृह मंत्रालय ने मांगी रिपोर्ट

0
29

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु के राजस्थान दौरे के समय सुरक्षा में चूक का मामला सामने आया है। पाली जिले के रोहट में चार जनवरी को हेलीपेड पर त्रिस्तरीय सुरक्षा घेरा तोड़कर एक महिला कनिष्ठ अभियंता ने राष्ट्रपति के पैर छू लिए। हालांकि पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर पुलिसकर्मी कनिष्ठ अभियंता को पुलिस थाने ले गए जहां पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया गया। इस मामले पर गृह मंत्रालय ने राज्य पुलिस से रिपोर्ट मांगी है।

राष्ट्रपति रोहट के पास निंबोली ब्राह्मण गांव में स्काउट गाइड की राष्ट्रीय जंबूरी का उद्धाटन करने पहुंची थी। हेलीपेड पर उनकी सुरक्षा के लिए त्रिस्तरीय बंदोबस्त किया गया था। राष्ट्रपति विमान से उतरकर कार की तरफ जा रहीं थी तो जलदाय विभाग में तैनात महिला कनिष्ठ अभियंता ने आगे बढ़कर उनके पैर छू लिए। राष्ट्रपति के सुरक्षाकर्मियों से महिला को हटाया।
बाद में जिला पुलिस अधीक्षक गगनदीप सिंगला के निर्देश पर कनिष्ठ अभियंता को रोहट पुलिस थाने ले जाकर पूछताछ की गई थी। बाद में उसे छोड़ दिया गया था। कनिष्ठ अभियंता के राष्ट्रपति तक पहुंचने और पैर छूने को गृह मंत्रालय ने सुरक्षा में चूक माना है। इस बारे में पूछने पर जोधपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक पी रामजी ने कहा कि हेलीपेड पर क्या हुआ, इसकी उन्हें जानकारी नहीं है क्योंकि उस वक्त हमारा ध्यान ही अलग होता है।