इंदौर में हुए हादसे के बाद शिवराज सिंह ने मानी कमलनाथ की बात, उनके कहने पर बना दी…

0
103

हाल ही में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ एक हादसा पेश आया। इस हादसे में उनकी जान जाते जाते बच हुई। जानकारी के मुताबिक कमलनाथ तीन दिन पहले अपने कुछ साथियों के साथ इंदौर के डीएनएस अस्पताल में कांग्रेस के एक बड़े नेता रामेश्वर पटेल को देखने के लिए गए थे। इस दौरान अस्पताल में ऊपर जाने के लिए वो और उनके साथ मौजूद सभी मंत्री लिफ्ट में चड़ गए। तभी ये हादसा पेश आया। बता दें कि लिफ्ट लिफ़्ट अचानक से नीचे गिर पड़ी और लिफ्ट के दरवाजे लॉक हो गए।

इस बीच कमलनाथ के साथ साथ पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, पूर्व मंत्री जीतू पटवारी, विधायक विशाल पटेल, शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल भी लिफ्ट में मौजूद थे। इस हादसे के बाद अब मध्य प्रदेश सरकार ने एक समिति बना दी है। यह समिति राज्य में होने वाले लिफ्ट हादसे को रोकने का उपाय सुझाएगी। इस समिति में केवल 6 लोग हैं और इस समिति को संभालने के लिए लोक निर्माण विभाग के परियोजना संचालक अखिलेश अग्रवाल का नाम चुना गया है। यानी अखिलेश अग्रवाल को इस समिति का अध्यक्ष बनाया गया है।

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ हुए इस लिफ्ट हादसे का ज़िक्र विधानसभा में भी हुआ। इस दौरान ही राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमेटी बनाने का ऐलान किया। गौरतलब हैं कि इस समिति की मांग खुद कमलनाथ ने की थी। उनकी मांग के बाद ही शिवराज सिंह चौहान ने इसका ऐलान किया। बता दें कि इस हादसे में कमलनाथ को थोड़ी चोट भी आई है। इंदौर में लिफ्ट हादसे में उनकी गर्दन में चोट लगी है।