मैं RSS के ऑफिस में नहीं जा सकता, मेरा गला काटना पड़ेगा

0
26

पंजाब के होशियारपुर में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने देश में अमीरों और गरीबों के बीच बढ़ती खाई का मुद्दा उठाया. राहुल गांधी ने कहा, देश के 1 फीसदी लोगों के पास देश की 40 फीसदी संपत्ति है. उन्होंने कहा देश में 21 लोगों के पास उतना धन है, जितना 70 करोड़ लोगों के पास है.

भारत जोड़ो यात्रा के तहत कांग्रेस नेता राहुल गांधी इस समय पंजाब के होशियारपुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस को पहले किया जाना था लेकिन यात्रा में कांग्रेस सांसद संतोख सिंह की मौत के बाद इसे टाल दिया गया था.

राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सुरक्षा में चूक की खबरों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “कौन सी सुरक्षा में चूक हुई थी. वह मुझे गले लगाने आया था और अति उत्साहित था. इसे सुरक्षा में चूक नहीं कहेंगे. यात्रा में ऐसा होता रहता है.”

कांग्रेस नेता ने कहा, “भारत की सभी संस्थाओं को RSS और BJP कंट्रोल कर रही है. सभी संस्थाओं पर उनका दवाब है. चुनाव आयोग, नौकरशाही, न्यायपालिका पर उन्होंने कब्जा कर रखा है. जो पहले राजनीतिक लड़ाई होती थी वैसी लड़ाई नहीं है. अब लड़ाई भारत की संस्थाओं और विपक्ष के बीच है. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा “मैं आरएसएस के ऑफिस में कभी नहीं जा सकता, मेरा गला काटना पड़ेगा.”

वरुण गांधी पर राहुल गांधी ने कहा “वो बीजेपी में हैं, मेरी विचारधारा उनसे नहीं मिलती. मैं आरएसएस के दफ्तर में नहीं जा सकता चाहे मेरा गला काट दिया जाए. वरुण ने उस विचारधारा को  अपनाया. उनसे मिल सकता हूं, गले लगा सकता हूं, लेकिन उनकी विचारधारा नहीं अपना सकता.”

राहुल गांधी ने देश में अमीरों और गरीबों के बीच बढ़ती खाई पर भी सवाल उठाया. कांग्रेस ने कहा देश के 50 प्रतिशत सबसे गरीब लोग 64 प्रतिशत जीएसटी देते हैं. वहीं, देश के 10 प्रतिशत सबसे अमीर लोग सिर्फ 3 प्रतिशत जीएसटी देते हैं.

उन्होंने आगे कहा देश की 40 प्रतिशत संपत्ति पर 1 प्रतिशत अमीरों का कब्जा है, जबकि देश की 50 फीसदी आबादी सिर्फ 3 प्रतिशत संपत्ति की मालिक है. उन्होंने कहा देश का मीडिया इन चीजों पर सवाल नहीं करता है.