मुठभेड़ में मारा गया लश्कर-ए-तैयबा का हाइब्रिड आतंकी

0
18

जम्मू-कश्मीर: अनंतनाग जिले में रविवार को सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ के दौरान लश्कर-ए-तैयबा का हाइब्रिड दहशतगर्द मारा गया। जवान इस आतंकी को ठिकानों की पहचान के लिए अपने साथ ले गए थे। पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों को आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी, जिसके बाद-दइेच;अनंतनाग जिले के बिजबेहरा स्थित चेकी डूडू इलाके में घेराबंदी करके तलाशी अभियान शुरू किया गया।

कश्मीर जोन पुलिस ने ट्वीट करके बताया, श्जब सर्च टीम संदिग्ध ठिकाने की ओर पहुंची तो आतंकवादी गोलीबारी करने लगे। इस दौरान लश्कर के आतंकी सज्जाद तांत्रे को गोली लग गई। सज्जाद को बिजबेहरा स्थित एसडीएच अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।श् पुलिस अधिकारी ने बताया कि सज्जाद तांत्रे कुलगाम का रहने वाला था। वह 13 नवंबर को बिजबेहरा के राखमोमेन में गैर-स्थानीय मजदूर की हत्या में शामिल था।

हाइब्रिड आतंकवादी सज्जाद तांत्रे ने जांच के दौरान खुलासा किया था कि उसने 13/11/2022 को अनंतनाग के राखमोमेन में 2 बाहरी मजदूरों पर हमला किया था, जिसमें दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए थे। घायल मजदूर छोटा प्रसाद की 18/11/2022 को अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। यह भी पता चला कि तांत्रे पहले लश्कर का एक आतंकवादी सहयोगी था और पीएसए से रिहा हुआ था। उसके पास से हथियार और आतंकी वारदात में इस्तेमाल वाहन भी बरामद किया गया था।

पुलिस के अनुसार, इस मॉड्यूल के आतंकवादियों के और सहयोगियों को गिरफ्तार करने के लिए जांच जारी है। मालूम हो कि हाइब्रिड आतंकवादी उन गैर-सूचीबद्ध दहशतगर्दों को कहा जाता है जो आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के बाद अक्सर बिना कोई निशान छोड़े नियमित जीवन जीने लगते हैं। ऐसे आतंकियों की पहचान कर पाना बहुत मुश्किल होता है।