पटाखे के धमाके से ढहा मकान, महिला की मौत

0
6

गोंडा के नवाबगंज कस्बे का संचरही मोहल्ला दिवाली वाले दिन सुबह करीब सवा नौ बजे भयंकर धमाके से दहल उठा। धुएं गुबार के बीच कुछ देर बाद लोगों ने देखा कि आतिशबाज का दो मंजिला मकान जमींदोज हो चुका है।

सूचना मिलते ही एसओ राकेश सिंह की अगुवाई की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। हालात को देखते हुए नगर पालिका की टीम जेसीबी लेकर पहुंची। साथ ही मेडिकल टीम भी बुला ली गई। पुलिस अफसरों के मुताबिक मलबे में दो से तीन लोग मलबे के नीचे दब गए। इनमें आतिशबाज की पत्नी को निकालकर अस्पताल भेजा गया।

जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। जबकि, उसके बेटे इब्राहिम उर्फ कनछेद 22 वर्ष को मलबे से निकालकर अस्पताल भेजा गया है। उसे लखनऊ रेफर किया गया है। सोमवार को कस्बे में लोग दिवाली की तैयारियों में जुट गए। इसी बीच करीब सवा नौ बजे संचरही मोहल्ले में आतिशबाज मोहम्मद सईद उर्फ बड्डे के घर में जबरदस्त धमाका हुआ। धमाका इतना तेज था कि लोग दहल उठे। धुंआ-गुबार छंटने के बाद मौके पर जुटे लोगों ने देखा तो सईद का दो मंजिला मकान जमींदोज हो चुका है। सूचना मिलते ही नवाबगंज पुलिस मौके पर पहुंच गई। लोगों की मदद से सईद के बेटे को मलबे से निकालकर अस्पताल भेजा गया।

इसके बाद सईद की पत्नी खैरून निशा (55) को मलबे से निकालकर अस्पताल भेजा गया। जहां, डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। मोहम्मद सईद उधर, नगर पालिका की टीम भी जेसीबी लेकर मौके पर पहुंच गई। फिलहाल मौके पर अफरातफरी का माहौल है। बताया जा रहा है कि मलबे के नीचे तीन लोग दबे थे।

इनमें एक व्यक्ति को बाहर निकाल लिया गया है। एएसपी शिवराज ने बताया कि मैं खुद मौके पर पहुंच रहा हूं। फिलहाल बचाव कार्य जारी है। जांच के बाद ही घटना के बारे में पुख्ता तौर पर कुछ कहा जा सकता है।