एक बार फिर टाटा के कुनबे में पहुंचा एयर इंडिया, जानें डील से जुड़ी कुछ जरूरी बातें..

0
83

काफी लंबे समय के बाद एक बार फिर एयर इंडिया (Air India) की कमान टाटा (Tata) के हाथों में आ गई है। जिसको लेकर टाटा ग्रुप के चेयरमैन रतन टाटा (Ratan Tata) ने खुशी जाहिर की है। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट से एक पुरानी तस्वीर साझा की और लिखा कि “वेलकम बैक।” बता दें कि उन्होंने एक पुरानी तस्वीर भी शेयर की है। जिसमें कंपनी के पूर्व चेयरमैन जेआरडी टाटा नजर आ रहे हैं। जानकारी के मुताबिक रतन टाटा ने एयर इंडिया के लिए 18000 करोड़ रुपये की बोली स्वीकार की है। जिसके बाद वह फिर एक बार एयर इंडिया के मालिक बन गए हैं। इस बारे में तो आपको पता ही होगा। लेकिन अभी हम आपको बताने वाले है एयर इंडिया से जुड़ी कुछ जरूरी बातें।

बता दें कि एयर इंडिया के टाटा संस के पास जाने के बावजूद एयरलाइंस के किसी भी कर्मचारी को अगले एक साल तक कंपनी से नहीं निकाला जाएगा। उन्हें एयर इंडिया में मिलने वाली सुविधाओं को बरकरार रखा जाएगा। सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि सरकार का कहना है कि टाटा संस के हाथ में एयर इंडिया की कमान जाने के बाद भी उनके सभी हितों का ध्यान रखा जाएगा। दीपम सेक्रेटरी तुहिन कांत पांडे ने बताया कि एयर इंडिया के सभी कर्मचारियों को ग्रेच्युएटी में कोई बदलाव नहीं होगा। सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि उन्हें रिटायरमेंट के बाद मिलने वाली सुविधाएं भी बरकरार रहेंगी।

गौरतलब हैं कि एयर इंडिया पर 60 हजार करोड़ का कर्ज है और सरकार को इससे रोजाना करीब 20 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। इसके बावजूद भी टाटा संस ने 18 हजार करोड़ रुपए में एयर इंडिया में 100 फीसदी हिस्सेदारी ले ली है। इसके अलावा आपको बता दें कि भविष्य में भी टाटा संस एयर इंडिया नाम और इससे जुड़े लोगो किसी गैर भारतीय को नहीं बेच सकती है। केवल एक भारतीय व्यक्ति को हस्तांतरित कर सकता है ताकि ब्रांड – एयर इंडिया – हमेशा के लिए भारतीय बना रहे।