चोरी के आरोपित दलित युवक की जाति पता करने के बाद पीट-पीटकर हत्या

0
136

उत्तर प्रदेश में दलितों के उत्पीड़न और उनके साथ हिंसा के मामले लगातार बढ रहे हैं. हालिया घटना लखीमपुर जिले की है, जहां एक दलित युवक को पीट-पीटकर मार डाला गया है. खबरों के मुताबिक 22 वर्षीय दलित युवक अवनीश को दुकानदारों ने घड़ी चुराने के आरोप में पकड़ा था. बताया जा रहा है कि दुकानदारों ने अवनीश की जाति पता करने के बाद उसकी बर्बर पिटाई की, जिससे उसकी मौत हो गई. इस हत्या की शिकायत अवनीश के 14 वर्षीय पड़ोसी प्रसून ने दर्ज कराई है. बुधवार को पुलिस ने दो दुकानदारों पुष्पेंद्र सिंह और संजीव वर्मा गिरफ्तार कर लिया है और अन्य दो आरोपितों की तलाश कर रही है. अवनीश पर पुष्पेंद्र सिंह ने अपनी दुकान से कलाई घड़ी चुराने का आरोप लगाया था.
इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट में कहा गया है कि दुकानदार ने अवनीश पर एक कलाई घड़ी अपनी जेब में रखने का आरोप लगाकर गाली-गलौच शुरू कर दी. इस पर अवनीश ने कहा कि वह दाम चुकाने जा रहा था. लेकिन, दुकानदारों ने उसकी बात पर भरोसा नहीं किया और उसकी जाति पता करने के बाद डंडे से पिटाई शुरू कर दी. गोला थाने के एसएचओ अशोक पाण्डेय ने बताया है कि अवनीश और प्रसून गोला गोकरणनाथ मंदिर में दर्शन करने के बाद भूतनाथ मेला घूमने पहुंचे थे, जहां पर यह घटना हुई है. भूतनाथ मेला हर साल 20 जुलाई से शुरू होता है और एक महीने तक चलता है.
उत्तर प्रदेश में ही पिछले महीने मैनपुरी में एक दुकानदार ने 15 रुपये के बकाए को लेकर हुई बहस में एक दलित दंपति पर कुल्हाडी से हमला कर दिया था और इस घटना में पति-पत्नी, दोनों की मौके पर ही मौत हो गई थी.