हिमाचल में दो जगह बादल फटे, पांच लोगों की मौत

0
38

हिमाचल : प्रदेश में ऑरेंज अलर्ट के बीच शुक्रवार रात से जारी भारी बारिश का दौर शनिवार दोपहर बाद तक जारी रहा। शिमला के रोहड़ू और कुल्लू जिले की गड़सा घाटी में बादल फटने से भारी तबाही हुई है। रोहड़ू में कलोटी खड्ड में बादल फटने से चिड़गांव तहसील के लैला में दादा-दादी और पोता ढाबे समेत बह गए। जगोटी गांव के रोशन लाल पत्नी भागा देवी के साथ ढाबा चलाते थे। शुक्रवार रात को उनका पोता कार्तिक भी उनके साथ था।

भागा देवी व रोशन लाल का शव बरामद कर लिया गया है।  वहीं, शिमला के कोटखाई उपमंडल की बागडुमैहर पंचायत के पुजाली गांव में शुक्रवार देर रात भूस्खलन के बाद मलबा दीवार को तोड़कर शेड में घुसने से नेपाली दंपती की मौत हो गई। सुबह ग्रामीणों ने मलबे में दबे भीम बहादुर (55) और उनकी पत्नी शीला देवी (60) के शव निकाले। कुल्लू जिले की गड़सा घाटी में भलाण-1 पंचायत में बादल फटने से नाले में आई बाढ़ से प्रशासन ने 30 घर खाली करवाए।

प्रदेश में 696 सड़कें, 1,450 बिजली के ट्रांसफार्मर, 393 पानी की स्कीमें अभी भी ठप हैं। सिरमौर जिले के नाहन में सीजेएम आवास के पास सड़क किनारे भूस्खलन से यहां पार्क दो गाड़ियां डंगे से नीचे गिरने से क्षतिग्रस्त हो गईं।