चिंतन शिविर में होगी इन बड़े मुद्दों पर चर्चा, फिर एक बार हो सकती है राहुल की ताजपोशी.?

0
73

शुक्रवार यानि आज से कांग्रेस की तीन दिवसीय चिंतन शिविर का आगाज होने जा रहा है। इस बार चिंतन शिविर कार्यकर्म राजस्थान के उदयपुर में आयोजित किया गया है। इस कार्यकर्म में कई बड़े नेताओं के शामिल होने की बात कही जा रही है। जानकारी के अनुसार अब तक कई बड़े नेता उदयपुर पहुंच चुके हैं, इनमें राहुल गांधी भी शामिल हैं। आज से अगले 3 दिनों तक ये कार्यकर्म जारी रहने वाला है और इस दौरान कई बड़े मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। जिसमें सबसे बड़ा मुद्दा 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव का होगा।

साल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में किस तरह भाजपा को घेरा जाए इस मुद्दे पर चर्चा होगी, साथ ही इस दौरान बढ़ती महंगाई, अल्पसंख्यक मुद्दों और महिलाओं के मुद्दों, युवा नई शिक्षा नीति और बढ़ती बेरोजगारी और किसान के मुद्दों पर भी चर्चा की जाएगी। सूत्रों के मुताबिक आज कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी पार्टी नेताओं को कार्यक्रम के आगाज के अवसर पर संबोधित करेंगी। इस बीच कयास लगाया जा रहा है कि फिर एक बार इस कार्यकर्म के दौरान राहुल गांधी को कांग्रेस का अध्यक्ष बना दिया जाएगा।

पार्टी के बड़े नेताओं का कहना है कि पार्टी के ज्यादातर नेता चाहते हैं कि राहुल गांधी पार्टी की कमान संभाले। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस मुद्दे पर कहा कि “राहुल गांधी के अध्यक्ष बनने की लंबे समय से मांग हो रही है। हर वर्ग का नेता, कार्यकर्ता, कांग्रेस की हर कमेटी के लोग भी यही कह रहे हैं। मैं समझता हूं कि राहुल गांधी को अध्यक्ष बन जाना चाहिए।” अशोक गहलोत के साथ साथ छत्तीसगढ़ के एआईसीसी प्रभारी पीएल पुनिया, कांग्रेस नेता रागिनी नायक और कांग्रेस नेता और कवि इमरान प्रतापगढ़ी ने भी राहुल गांधी के अध्यक्ष बनाए जाने की बात कही।