बढ़ते संकट के बीच ICMR का बड़ा खुलासा, मुंबई में सीवर के पानी में भी पाया गया कोरोना

0
97

देशभर में कोरोनावायरस दिन ब दिन बढ़ता जा रहा है। जिसके कारण देश की सरकार काफी चिंतित है। देश के लोगों को इस वायरस से दूर रखने के लिए तरह तरह के फैसले लिए जा रहे हैं। इस दौरान इसकी वैक्सीन पर भी लगातार काम जारी है। लेकिन अभी तक पूरी तरह सफलता हासिल नहीं हो पाई है। बढ़ते संकट के बीच एक स्टडी में पता चला कि महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई (Mumbai) में सीवर के पानी में भी कोरोनावायरस पाया गया है।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) की शुरुआती स्टडी में बताया गया कि मुंबई में सीवर के पानी में कोरोनावायरस पाया गया है। बता दें कि 11 मई से 22 मई के बीच धारावी समेत मुंबई के 6 वार्डों से सीवर का पानी एकत्र किया गया था और इसकी जांच की गई। इन 6 वार्डों के सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। हालांकि इससे पहले 16 मार्च से पहले लिए गए सभी सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी।

ये सभी सैंपल वडाला, धारावी, कुर्ला, शिवाजी नगर, मलाड और कंजूर से लिये गए थे। संकट को बढ़ता देख अब इसके सभी पहलुओं पर नज़र डाली जा रही है। एक रिसर्च में ये भी पता चला है कि कोरोना संक्रमित मरीज़ों के मल में भी वायरस आ जाता है। इससे पहले भी बताया गया था कि सीवर के पानी में भी वायरस हो सकता है। जिसके बाद से ही इसके ऊपर स्टडी शुरू की गई। सफाई के लिए सीवर में उतरने वाले लोगों में इससे संक्रमण फैलने का खतरा है। गौरतलब है कि अब तक देश भर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 99 लाख से भी अधिक हो चुकी है।