बेंगलुरु : भारत विरोधी नारों को लेकर एमनेस्टी इंडिया के ख़िलाफ़ देशद्रोह का मामला दर्ज

0
81

बेंगलुरु: बेंगलुरु शहर की जेसी नगर पुलिस ने एमनेस्टी इंडिया के ख़िलाफ़ देशद्रोह का मामला सोमवार को दर्ज किया है. आईपीसी की धारा 142, 143, 147, 124A, 153A और 149 के तहत मामले दर्ज किये गए हैं. हालांकि ये सभी मामले संस्था के खिलाफ दर्ज हुए हैं, किसी व्यक्ति के नहीं.
मामला पिछले शनिवार रात का है. एमनेस्टी इंटरनेशनल की तरफ से बेंगलुरु में एक सेमिनार का आयोजन किया गया जिसमें कुछ कश्मीरी परिवारों को बुलाया गया था, जो ये बता रहे थे कि कश्मीर में किस तरह से उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है. इसी बीच कश्मीरी पंडितों का एक दल वहां आया और फिर दोनों गुटों में तीखी झड़प हुई. इस झड़प के बाद का एक तथाकथित वीडियो सामने आया जिसमें कुछ युवा चिल्लाते हुए सुने जा सकते हैं, “हमको चाहिए आज़ादी.”
इसके बाद एबीवीपी और कुछ दूसरे संगठनों ने उस सभागार के बाहर विरोध प्रदेर्शन किया जहां इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. बाद में कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता बी एस येदियुरप्पा ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर इस मामले में हस्तछेप करने का आग्रह किया.
वहीं दूसरी तरफ़ एमनेस्‍टी इंटरनेशनल की तरफ एक विज्ञप्ति जारी कर ये कहा गया कि मानवाधिकारों से जुड़े मामलों पर संगठन ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन करता रहता है और वो किसी का पक्षधर नहीं है.
एमनेस्टी इंटरनेशनल इंडिया के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर आकार पटेल ने देशद्रोह का मामला दर्ज होने पर कहा कि संवैधानिक मूल्यों की हिफाज़त विषय पर कार्यक्रम भी अब अपराध माना जा रहा है. इस कार्यक्रम के लिए पुलिस को भी बुलाया गया था. देशद्रोह का मामला दर्ज होने से साफ़ होता है कि मौलिक अधिकार और अभिव्‍यक्ति की आज़ादी बेमानी है.