4 दर्जन से भी ज्यादा लोग हैं टीम इंडिया के कोच के दावेदार

0
113

मार्च-अप्रैल में भारत में खत्म हुए टी-20 वर्ल्ड कप के बाद टीम डायरेक्टर के रुप में रवि शास्त्री का कार्यकाल खत्म होने के बाद से टीम इंडिया में कोच का पद खाली है। अगले महीने जुलाई में टीम के वेस्टइंडीज जाने से पहले बोर्ड चाहता है कि नए कोच का चुनाव कर लिया जाए।

बोर्ड ने इसी सिलसिले में पहली जून को अपनी वेबसाइट पर नए कोच के लिए आवेदन मांगे थे और इसके लिए आवेदन करने के वास्ते 10 जून तक का समय दिया था।

अब कोच पद के लिए टीम इंडिया के पूर्व डायरेक्टर रवि शास्त्री और चयन समिति प्रमुख संदीप पाटिल सहित 57 लोगों ने मुख्य प्रशिक्षक पद के लिए आवेदन कर डाला है। आवेदन करने की अंतिम तिथि 10 जून थी।

बीसीसीआई ने एक बयान के जरिए इस बात की जानकारी दी है। हालांकि उसने आवेदन करने वालों के नामों की कोई जानकारी नहीं दी है। बीसीसीआई सचिव का कार्यालय अब इन आवेदनों को खंगालेगा और जो लोग जरूरी मापदंडों पर खरे उतरेंगे उनके नामों को आगे बढ़ाया जाएगा।

शास्त्री और पाटिल के अलावा जो अन्य प्रमुख नाम चल रहे हैं उनमें पूर्व तेज गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद, बलविंदर सिंह संधू और पूर्व बल्लेबाज ऋषिकेश कानितकर शामिल हैं।

शास्त्री ग्रुप के सपोर्ट स्टाफ भरत अरुण, आर श्रीधर और संजय बांगड़ ने मुख्य प्रशिक्षक पद के लिए आवेदन नहीं किया है और संभवत: वे उस दूसरे दौर का इंतजार कर रहे जब बीसीसीआई बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण के लिए स्पेशलिस्ट कोच के लिए भर्ती करेगा।

जहां तक विदेशी नामों में सबसे बड़े नामों का सवाल है तो उसमें ऑस्ट्रेलिया से एक बड़ा नाम आ रहा था। मीडिया रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज और इंग्लिश काउंटी में यॉर्कशायर के कोच जेसन गिलेस्पी ने भी इस पद के लिए आवेदन किया है। हालांकि गिलेस्पी ने इससे इंकार किया है।

ऑस्ट्रेलिया के ही एक अन्य पूर्व क्रिकेटर स्टुअर्ट लॉ जो जुलाई 2011 से लेकर जून 2012 तक बांग्लादेश के कोच रहे हैं ने भी टीम इंडिया का कोच बनने की इच्छा जताई है।

बीसीसीआई के सचिव अजय शिर्के 57 आवेदनकर्ताओं में से नाम छांटने के बाद क्रिकेट की एडवाइजरी पैनल के पास संशोधित नाम भेजेंगे। जुलाई में भारतीय टीम के कैरेबियाई दौरे से रवाना पहले से फाइनल निर्णय लिए जाने की खबर है।