इस राज्य के 27 नागरिक फिलिस्तीन में फंसे, CM ने दिया सुरक्षित वापसी का भरोसा

0
63

इजरायल और आतंकी संगठन हमास के बीच जंग जारी है। इसकी शुरुआत तब हुई, जब हमास ने इजरायल के सात शहरों में ताबड़तोड़ रॉकेट दागे, जिसमें अब तक 300 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। इजरायल ने भी हमास के खिलाफ ऑपरेशन एयर स्वोर्ड्स शुरू कर दिया है। हालांकि, इस दौरान भारत के मेघालय राज्य के 27 नागरिक फिलीस्तीन के बेथलहम शहर में फंस गए हैं।

मेघालय के सीएम कोनराड संगमा ने एक्स पर एक पोस्ट में लिखा- यरुशलम की पवित्र तीर्थयात्रा के लिए गए मेघालय के 27 नागरिक इजरायल और फिलिस्तीन के बीच तनाव के कारण बेथलहम में फंस गए हैं। मैं उनकी सुरक्षित घर वापसी सुनिश्चित करने के लिए विदेश मंत्रालय के संपर्क में हूं। आतंकी संगठन हमास ने शनिवार को स्वतंत्र फिलीस्तीन की मांग करते हुए इजरायल के सात शहरों पर अचानक हमला कर दिया। इस दौरान उसने हजारों रॉकेट दागे, जिसमें शारनेगेव शहर के मेयर समेत 300 से अधिक लोग मारे गए। हमास के आतंकियों ने कई विदेशी नागरिकों को भी बंधक बना लिया है।
हमास के हमले का जवाब देते हुए इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने भी युद्ध का एलान कर दिया। उन्होंने कहा कि हमास के सभी ठिकानों को मलबे में तब्दील किया जाएगा। उसे भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने इजरायल का समर्थन करते हुए हमास के हमले की निंदा की और हर संभव सहायता देने का भरोसा दिया। वहीं, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी और जापान समेत अन्य देशों ने भी इजरायल का समर्थन किया है, जबकि सऊदी अरब, मिस्र और रूस ने युद्धविराम की अपील की है।
इजरायल के जवाबी हमले में अब तक हमास के 230 आतंकी मारे गए हैं। न्यूज एजेंसी अल जजीरा ने यह जानकारी दी। हमास ने यह हमला तब किया, जब यहूदी धर्म मनाने वाले लोग अपना त्योहार मना रहे थे। ऐसा हमला 50 साल पहले 1973 में इजरायल पर किया गया था। यह हमला मिस्र और सीरिया की सेनाओं ने किया था। दोनों देश 1967 के युद्ध में इजरायल द्वारा कब्जा की गई अपनी जमीन छुड़ाना चाहते थे।