14 बार की चैंपियन को हराकर भारत ने रचा इतिहास, पहली बार अपने नाम किया ये बड़ा खिताब…

0
75

खेल की दुनिया में अब धीरे धीरे भारत इतिहास रच रहा है। कभी क्रिकेट में तो कभी किसी अन्य खेल में, इस बार फिर से भारत में इतिहास रच दिया है। इस बार भारत ने बैडमिंटन के प्रतिष्ठित टूर्नामेंट थॉमस (Thomas Cup) को जीत कर इतिहास के पन्नो पर अपना नाम दर्ज करवाया है। बता दें कि भारत ने लक्ष्य सेन, सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी, चिराग शेट्टी और किदांबी श्रीकांत की मदद से इस खिताब को पहली बार अपने नाम किया है। इससे पहले भारत ने ये खिताब कभी अपने नाम नहीं किया था।

इस गेम की खास बात ये रही कि भारत ने फाइनल में प्रतियोगिता के 14 बार के चैंपियन इंडोनेशिया को सीधे मुकाबलों में 3-0 से मात देते हुए इस खिताब पर कब्जा किया है। गोरतलब हैं कि पहले मैच में मेंस सिंगल वर्ग में लक्ष्य सेन ने विश्व के नंबर चार खिलाड़ी एंथनी सिनिसुका गिनटिंग को मात दी। जिसके बाद इस जीत को आगे बढ़ाते हुए मेंस डबल वर्ग में सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी जोड़ी ने इंडोनेशिया के केविन संजाया और मोहम्मद अहसान की जोड़ी को हराया।

डबल्स मुकाबले में हुए तीन मैचों में से भारत ने 2 मैच जीते जबकि इंडोनेशिया ने एक, भारत ने मैच को 2-1 से जीत कर ये मुकाबला भी अपने नाम किया। जिसके बाद आखिरी मुकाबले में भारत के किदांबी श्रीकांत का मुकाबला इंडोनेशिया के जोनाथन क्रिस्टी के साथ हुआ। इस मुकाबले में दोनों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली। लेकिन अंत में ये मुकाबला भी भारत ने जीतकर थॉमस कप का खिताब अपने नाम कर लिया।