वर्ल्डकप से बाहर हुए शिखर, भुवी पर अभी फैसला नहीं

0
227

साउथम्पटन- भारतीय ओपनर शिखर धवन अपने बाएं हाथ के अंगूठे में फ्रैक्चर के कारण आईसीसी विश्वकप से बाहर हो गए हैं जबकि हैमस्ट्रिंग चोट से जूझ रहे तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार पर अभी कोई फैसला नहीं किया गया है। शिखर की जगह युवा विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत को टीम में शामिल किया गया है।

शिखर के अंगूठे में नौ जून को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच विजयी 117 रन बनाने के दौरान तेज गेंदबाज पैट कमिंस की गेंद पर हेयरलाइन फ्रैक्चर आ गया था। शिखर की चोट के बाद पंत को भारत से उनके कवर के तौर पर इंग्लैंड बुलाया गया था। भारतीय टीम प्रबंधन ने उस समय कहा था कि शिखर की चोट पर निगरानी रखी जाएगी और अगले 10-12 दिनों में कोई फैसला किया जाएगा।

टीम प्रबंधन को आखिर शिखर को बाहर करने का फैसला करना पड़ा और उनकी जगह पंत को भारतीय टीम में शामिल कर लिया गया। शिखर बुधवार को साउथम्पटन में भारतीय टीम के अभ्यास सत्र में मौजूद थे लेकिन उन्होंने बल्लेबाजी नहीं की। उनके बाएं हाथ पर पट्टी बंधी हुई थी और समझा जाता है कि उन्हें डॉक्टर से मिलने जाना था। भारत को साउथम्पटन में 22 जून को अफगानिस्तान से अपना अगला मुकाबला खेलना है।

शिखर का विश्वकप से बाहर हो जाना टीम के लिए एक बड़ा झटका है। भारत विश्वकप में अबतक चार मैचों में से तीन जीत चुका है और उसका न्यूजीलैंड के साथ मैच वर्षा के कारण रद्द रहा था। टीम मैनेजर सुनील सुब्रमण्यम और फिटनेस ट्रेनर शंकर बासु ने बुधवार को पुष्टि की कि शिखर विश्वकप से बाहर हो गए हैं और उनकी जगह टीम में पंत को शामिल कर लिया गया है।

बासु ने कहा, विशेषज्ञों से सलाह लेने के बाद यह पता चला है कि वह मध्य जुलाई तक मैदान में नहीं उतर सकते हैं इसलिए हमने उन्हें विश्वकप से बाहर करने का फैसला किया और पंत को उनकी जगह लेने के लिए बीसीसीआई से आग्रह किया है।

भारतीय टीम प्रबंधन ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से शिखर के विकल्प के लिए अनुमति मांगी थी। पहले यह माना जा रहा था कि शिखर इस महीने के आखिर तक अपनी चोट से उबर सकते हैं लेकिन चीजें योजना अनुसार नहीं रहीं और शिखर को टूर्नामेंट से बाहर हो जाना पड़ा। शिखर मध्य जुलाई तक क्रिकेट मैदान से बाहर रहेंगे।

बीसीसीआई अब अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की तकनीकी समिति को पत्र लिखेगी और शिखर के विकल्प के लिए आधिकारिक आग्रह करेगी।

21 वर्षीय पंत को विश्वकप टीम के पांच वैकल्पिक खिलाड़ियों में शामिल किया गया था। पंत को न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच से पहले शिखर के कवर के तौर पर इंग्लैंड बुलाया गया था। हालांकि भारत का न्यूजीलैंड के साथ मैच बिना कोई गेंद फेंके बारिश के कारण धुल गया था।

भारत के पाकिस्तान के साथ अगले मैच में लोकेश राहुल ने रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग की जिम्मेदारी संभाली थी और पहले विकेट के लिए 136 रन जोड़े थे। इसी मैच के दौरान तेज गेंदबाज भुवनेश्वर की हैमस्ट्रिंग में चोट आयी थी और उन्हें अपना तीसरा ओवर अधूरा छोड़कर मैदान से बाहर जाना पड़ा था। भुवनेश्वर फिर मैदान में नहीं लौटे थे और उसके बाद बताया गया था कि वह अगले दो-तीन मैचों तक बाहर रहेंगे।

टीम प्रबंधन ने भुवनेश्वर को लेकर अभी कोई फैसला नहीं किया है और उम्मीद की जा रही है कि वह बाद के मैचों में टीम में शामिल हो सकेंगे। फिलहाल भारत के पास मोहम्मद शमी के रुप में एक अन्य विशेषज्ञ तेज गेंदबाज है जो अंतिम एकादश में खेल सकता है। भारत का विश्वकप में अगला मुकाबला 22 जून को अफगानिस्तान से होना है।