ब्रिटेन की पुलिस ने किया विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे को गिरफ्तार

0
175

लंदन – विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे को ब्रिटेन की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इक्‍वाडोर के दूतावास से ब्रिटिश पुलिस ने उन्‍हें गिरफ्तार किया है। ब्रिटिश पुलिस ने बताया कि इक्वाडोर की सरकार ने जूलियन असांजे को जो शरण दिया थी, उसे हटा लिया है। इसी के बाद इक्वाडोर के राजदूत ने उन्हें बुलाया था, यहीं पर विकीलीक्स के संस्थापक को ब्रिटिश पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया। दरअसल, स्वीडन में असांजे पर यौन उत्पीड़न के आरोपों के बाद ब्रिटेन में जमानत पर रहते हुए इक्वाडोर के दूतावास में शरण दी गई थी।

47 साल के जूलियन असांजे ने स्वीडन के प्रत्यर्पण से बचने के लिए करीब 7 साल तक दूतावास के अंदर रहे। उन्हें गुरुवार को वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत की ओर से 29 जून, 2012 को जारी एक वारंट पर गिरफ्तार किया गया, जब वह अदालत में आत्मसमर्पण करने नहीं पहुंचे थे। इस बीच इक्वाडोर के राष्ट्रपति लेनिन मोरेनो ने बताया कि असांजे की शरण को इसलिए हटाया जा रहा क्योंकि अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों में उनकी ओर से बार-बार उल्लंघन किया गया है। इसी के बाद असांजे की शरण हटाने का फैसला लिया गया।

मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने बताया कि असांजे को गिरफ्तार करने के बाद सेंट्रल लंदन पुलिस स्टेशन लाया गया, जहां उसे रखा जाएगा। इस बीच जल्द से असांजे को वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा। बता दें कि इससे पहले 7 दिसंबर 2010 में भी असांजे को लंदन में गिरफ्तार किया गया था। उस समय असांजे को यौन-उत्‍पीड़न के मामले में गिरफ्तार किया गया था।