जस्टिस डीके जैन बीसीसीसाई के पहले लोकपाल

0
183

नई दिल्ली- लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों के मुताबिक तैयार बीसीसीआई विधान के अनुच्छेद के तहत सुप्रीम कोर्ट ने आज पूर्व जज जस्टिस डी.के. जैन बीसीसीआई का पहला लोकपाल बनाया है।

हार्दिक पांड्या और केएल राहुल का मामला भी जस्टिस जैन ही देखेंगे। करण जौहर के टीवी शो कॉफी विद करण में जाकर हार्दिक पांड्या और केएल राहुल ने महिलाओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की थी। इसके बाद बीसीसीआई ने उन्हें निलंबित कर दिया ‌‌था। दोनों को ऑस्ट्रेलिया दौरे के बीच ही वापस भारत बुला लिया गया।

मामले की सुनवाई कर रही जस्टिस एसए बोबड़े और जस्टिस अभय मनोहर सप्रे की बेंच ने कहा कि प्रशासकों की कमेटी के तीसरे सदस्य को लेकर हमारे मन में कुछ नाम हैं। उन पर चर्चा कर हम जल्द ही फैसला लेंगे। फिलहाल प्रशासकों की कमेटी में 2 ही सदस्य विनोद राय और डायना एडुलजी हैं।

सुनवाई के दौरान पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने खुद को क्रिकेट प्रशासन से दूर रखने का आदेश वापस लेने की मांग की। इस याचिका पर सुप्रीम कोर्ट 28 फरवरी को सुनवाई करेगा। अनुराग ठाकुर ने कहा कि मुझे अवमानना और कोर्ट में गलत जानकारी देने के आरोप में क्रिकेट प्रशासन से दूर किया गया था। अब सुप्रीम कोर्ट वो मामला बंद कर चुका है। पिछले 17 जनवरी को मामले में कोर्ट की सहायता कर रहे एमिकस क्यूरी गोपाल सुब्रमण्यम के हटने के चलते सुनवाई टालनी पड़ी थी। अब सुप्रीम कोर्ट ने वरिष्ठ वकील पी.एस. नरसिम्हा को यह ज़िम्मेदारी सौंपी है।