उत्तराखंड : बढ़ गई बेरोजगारी दर, आंकड़े बता रहे सच्चाई

0
25

देहरादून: सरकार भले ही बेरोजगारी कम होने के दावे करे, लेकिन रिपोर्ट बताती है कि बेरोजगारी फिर से बढ़ गई है। उत्तराखंड में नवंबर की अपेक्षा दिसंबर माह में बेरोजगारी दर में तीन फीसदी का इजाफा हुआ है। राज्य में बेरोजगारी दर नवंबर में 1.2 फीसदी थी, जो दिसंबर में बढ़कर 4.2 फीसदी पहुंच गई।

 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (CMIE) के हाल ही में जारी बेरोजगारी दर के आंकड़ों से यह खुलासा हुआ है। माना जा रहा है कि सर्दियों में चारधाम यात्रा और पर्यटन सीजन में आई गिरावट की वजह से बेरोजगारी दर बढ़ी है।

आंकड़ों के मुताबिक, सबसे कम बेरोजगारी दर वाले राज्यों में उत्तराखंड देश में नौंवे स्थान पर है। हालांकि राज्य की बेरोजगारी दर राष्ट्रीय बेरोजगारी दर (8.3 फीसदी) से काफी कम है। सबसे कम बेरोजगारी दर उड़ीसा की (0.9 प्रतिशत) और सबसे अधिक हरियाणा की (37.4 फीसदी) आंकी गई है।

 

जून में सबसे ज्यादा

CMIE के आंकड़ों के मुताबिक, उत्तराखंड में वर्ष 2022 के दौरान सबसे कम बेरोजगारी दर सितंबर में 0.5 प्रतिशत रही। जबकि सबसे अधिक जून में 8.7 प्रतिशत आंकी गई।

 

उत्तराखंड से कम बेरोजगारी दर

उड़ीसा (0.9 प्रतिशत), गुजरात (2.3 प्रतिशत), कर्नाटक (2.5 प्रतिशत), मेघालय (2.7 प्रतिशत), महाराष्ट्र (3.1 प्रतिशत), मध्यप्रदेश (3.2 प्रतिशत), तमिलनाडु (4.1 प्रतिशत), तेलंगाना (4.1 प्रतिशत)

 

पिछले चार माह में बेरोजगारी दर

 

वर्ष   सितंबर    अक्तूबर    नवंबर     दिसंबर

2022  0.15     3.3        1.2       4.2