उत्तराखंड: नहीं थम रहा बारिश का कहर, अब भी इतनी सड़कें बंद

0
23

देहरादून: राज्य में भारी बारिश कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। लगातार भारी बारिश के कारण जगह-जगह भूस्खलन हो रहा है, जिसके चलते कई मार्ग बंद हो गई हैं। नेशलन हाईवे से लेकर राज्य मार्ग और ग्रामीण संपर्क मार्ग तक बंद हैं। ऐसे में लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। भारत-चीन बॉर्डर पर बारिश के बाद मलबा आने से घटियाबगड़-लिपुलेख सड़क मलघाट के पास सड़क बंद हो गई है।

पिथौरागढ़ जिले में पिथौरागढ़। जिले में बारिश के बाद एक 10 सड़कों पर यातायात ठप है।प्रदेशभर में हो रही भारी बारिश की वजह से राज्य की 167 सड़कें बंद हो गई। पर्वतीय क्षेत्रों में लोगों को आवाजाही में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जबकि, पिथौरागढ़ जिले में सड़कों के बंद रहने से 20 हजार से अधिक की आबादी को खासी परेशानी झेलनी पड़ रही हैं। ग्रामीण किसी तरह बदहाल रास्तों के बीच जान जोखिम में डालकर आवाजाही करने को मजबूर हैं।

लोक निर्माण विभाग की रिपोर्ट के अनुसार शनिवार को राज्य में बारिश से 128 सड़कें बंद थी। रविवार को तेज बारिश की वजह से 83 और सड़कें बंद हो गई। रविवार को राज्य में कुल बंद सड़कों की संख्या 211 पहुंच गई थी, हालांकि रविवार देर सांय तक 44 सड़कों पर यातायात चालू होने से बंद सड़कों की संख्या 167 रह गई है।

राज्य में प्रमुख रूप से दो एनएच और 16 राज्य मार्ग बंद चल रहे हैं। प्रमुख रूप से बंद सड़कों में रुद्रप्रयाग पोखरी गोपेश्वर मार्ग, थराली देवाल वाण मार्ग, कर्णप्रयाग मैखुरा मार्ग, कर्णप्रयाग नौटी पैठाणी मार्ग, गुप्तकाशी कालीमठ कोटमा मार्ग, मयाली गुप्तकाशी मार्ग सहित अनेक सड़कें बंद चल रही हैं।