उत्तराखंड : सरकारी मास्टर बना नक़ल माफिया, STF ने यहां से किया गिरफ्तार

0
77

देहरादून: उत्तराखंड STF ने कुमाऊं के दो रिजॉर्ट में नकल सेंटर का खुलासा किया है। पेपर लीक मामले में STF ने एक और सरकारी मास्टर को गिरफ्तार किया है। पीसीओ चलाने से लेकर छोटे इलेक्ट्रॉनिक्स सामान बेचते-बेचते बलवंत सिंह रौतेला बेसिक शिक्षक बन गया था। वह राजकीय प्राथमिक विद्यालय लोहाघाट में तैनात था।

एसटीएफ ने बताया कि सामूहिक पेपर लीक में अभ्यर्थियों को दो रिजॉर्ट में इकट्ठा किया गया था। यहां करीब 55 से 60 स्टूडेंट्स को नकल कराई गई। नकल कराने वाले शशिकांत गिरफ्तार कर लिया गया था। उसका सबसे खास और भरोसमंद बलवंत रौतेला को भी एसटीएफ ने आज गिरफ्तार कर लिया।

एसटीएफ की ओर से रिजॉर्ट सामूहिक पेपर लीक में किया गया। शिक्षक बलवंत सिंह रौतेला ने कई खुलासे किए गए हैं। उसने करीब 40 छात्रों को इकठ्ठा कर के उत्तर प्रदेश के नकल माफिया शशिकांत के माध्यम से पेपर लीक कराया था। नकल करने वाले अधिकांश छात्रों की पहचान कर ली गई है।