रायगढ़ पुल हादसा: 130 किमी दूर समुद्र किनारे मिली बस ड्राइवर की लाश

0
135

मुंबई-गोवा हाईवे पर सावित्री नदी पुल हादसे में लापता 11 लोगों के शव गुरुवार तक बरामद हुए हैं। इनमें राज्य परिवहन विभाग (एसटी) की जयगढ़-मुंबई बस के ड्राइवर एसएस कांबले का शव घटनास्थल से करीब 130 किमी दूर रत्नागिरि जिले के आंजर्ले के पास समुद्र किनारे मिला है जबकि बस के अवशेष पांच किमी दूर बरामद हुए।
परिवहन मंत्री दिवाकर रावते ने हादसे में मारे गए लोगों के आश्रितों को राज्य सरकार की ओर से 10-10 लाख रुपए की आर्थिक मदद की घोषणा की है। इसी के साथ राज्य परिवहन विभाग के ड्राइवर के एक वारिस को सरकारी नौकरी दी जाएगी या फिर 10 लाख रुपए की मदद।
यह वारिस पर निर्भर होगा कि वह क्या लेना चाहेगा। इसी के साथ सीएम फडणवीस ने विधानसभा में हादसे की न्यायिक जांच की घोषणा की।- उन्होंने कहा कि नदी पर ब्रिटिशकालीन पुल बहा है, वहां समानांतर नया पुल रिकार्डब्रेक समय में बनाया जाएगा।
बुधवार रात हादसे में लापता हुए लोगों को तलाशने का काम गुरुवार को भी नौसेना, एनडीआरएफ, तटरक्षक बल, फायर ब्रिगेड और पुलिस की मदद से जारी रहा। एनडीआरएफ और नौसेना के जवानों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। गुरुवार सुबह नदी में उफान की वजह से एनडीआरएफ जवानों की नाव पलट गई। सभी जवान सही-सलामत हैं।
सावित्री नदी हरिहरेश्वर के पास अरब सागर में मिलती है। वहां से एक महिला का शव बरामद हुआ। उनकी पहचान शेवंती मिरगल के रूप में हुई है।
गुहागर से मुंबई जीप से जा रहे छह-सात लोग लापता हुए थे, उसमें से दो के शव केंबुर्ली के पास मिले हैं। एक शव दादली गांव के पास खाड़ी में बरामद हुआ।
इसी इलाके में नौसेना को दो और शव मिले हैं। घटनास्थल के पास नदी किनारे भी एक शव मिला है। एक महिला का शव विसावा होटल के पास मिला है। लापता लोगों को खोजने में जवानों की मदद स्थानीय मछुआरे भी कर रहे हैं।