महाराष्ट्र में फिर सियासी हलचल, अब CM शिंदे ने चला ये दांव

0
66

महाराष्ट्र:  महाराष्ट्र में सियासी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। उद्धव ठाकरे गुट और एकनाथ शिंदे गुट के बीच लगातार एक-दूसरे को मात देने के लिए उठापटक चल रही है। अब शिवसेना मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे को एक और झटका देने की तैयारी में हैं।

सीएम एकनाथ शिंदे ने राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी को पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि सरकार उन 12 एमएलसी के नाम वापस लेना चाहती है जो पिछली महाराष्ट्र विकास अघाड़ी सरकार द्वारा दिए गए थे। सूत्रों के अनुसार पिछली एमवीए गठबंधन सरकार की ओर से उपलब्ध कराए गए नामों की सूची वापस ले ली गई है। एकनाथ शिंदे जल्द ही एमएलसी की नई सूची देंगे।

पिछली सरकार ने उन 12 नामों की लिस्ट दी थी जिन्हें राज्यपाल कोटे के तहत महाराष्ट्र विधान परिषद में नामित किया जाना था। हालांकि राज्यपाल ने दो साल से अधिक समय पहले मिली इस सूची पर अब तक कोई फैसला नहीं लिया है।

महाराष्ट्र में हाल में हुए सत्ता परिवर्तन के बाद से ही राज्यपाल द्वारा विधान परिषद सदस्य के लिए नियुक्त किए जाने वाले 12 नामों पर नए सिरे विचार करने की चर्चा हो रही थी।

CM रहते हुए उद्धव ठाकरे ने जिन 12 नामों की सिफारिश गवर्नर कोश्यारी से की थी उनमें शिवसेना से उर्मिला मातोंडकर और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की तरफ से एकनाथ खडसे जैसे नाम शामिल हैं। आपको बता दें कि गवर्नर के पास लंबे समय से यह सिफारिश लंबित थी।

लिस्ट में शिवसेना की ओर से अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर, विजय करंजकर, नितिन बानुगड़े पाटिल और चंद्रकांत रघुवंशी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की ओर से एकनाथ खडसे, राजू शेट्टी, यशपाल भिंगे और गायक आनंद शिंदे व कांग्रेस की ओर से रजनीताई पाटिल, सचिन सावंत, अनिरुद्ध वांकर, मुजफ्फर हुसैन का नाम शामिल था।