पु’लिस ह’त्याकां’ड के अपरा’धी विकास दूबे का साथी हुआ ढे’र, हमीरपुर में….

0
306

कानपुर पु’लिसक’र्मियों की ह’त्याकां’ड के मामले में अभी जां’च चल रही है। लेकिन अभी तक मुख्य आरो’पी विकास दुबे पु’लिस की ग’रिफ़्त से बाहर है। ये मामला कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में हुआ जहां आठ पु’लिसक’र्मियों ने अपनी जा’न गवां दी। वही ह’त्या के बाद अब पु’लिस ने विकास दुबे के सहयोगी अमर दुबे को हमीरपुर में हुई मुठभेड़ में मा’र गिराया। बुधवार के दिन आरो’पी पु’लिस से छुप कर भाग रहे थे। वही अमर दुबे ने पु’लिस पर फाय’रिंग की उसके बाद पु’लिस फाय’रिंग में अमर दुबे को हमीरपुर के मौदहा में पु’लिस ने मा’र गिराया।

मुठभे’ड़ में मा’रे गए आठ पु’लिसकर्मि’यों और क्षेत्राधिकारी की ह’त्या में शामिल अमर दुबे को पु’लिस बुधवार को हमीरपुर में मा’र गिराया। बताया जा रहा है कि अमर दुबे इस ह’त्याकां’ड में विकास दुबे का खास आदमी और रिश्ते में उसका भतीजा लगता था। पु’लिस ने बताया कि अमर दुबे पर चौबेपुर थाने में 5 मुक’दमे दर्ज है। इसके अलावा भी इस पर कई मुक’दमे दर्ज होने की बात कही जा रही है। बता दें कि जिस दिन ह’त्याकां’ड की घ’टना को अंजाम दिया गया उस दिन भी अमर दुबे इस सा’जिश में शामिल था। अमर दुबे को विकास दुबे का शातिर शार्प शू’टर बताया जाता है। पु’लिस ने बताया है कि अमर दुबे घ’टना वाले दिन मा’रे गए विकास दूबे का सगा भतीजा है। और अमर दुबे के पिता की पहले ही एक सड़क हा’दसे में जा’न चली गयी थी। अभी दो दिन पहले ही अमर दुबे की माँ को पु’लिस ने आरो’पियों को भगाने और आगाह करने के जु’र्म में जेल भेजा है।

अमर दुबे जो कि ह’त्याकां’ड में शामिल था पु’लिस ने उस पर 25 हज़ार का इनाम भी घोषित किया था। लेकिन अब वो मारा गया। ह’त्याकां’ड की घ’टना के दो दिन बाद पु’लिस के द्वारा अमर दुबे की माँ को आरो’पियों को भगाने और आगाह करने के जु’र्म में ग्रि’फ्तार कर लिया। अमर दुबे के खिला’फ चौबेपुर थाने में पांच मुकदमे दर्ज है, और इसके अलावा पु’लिस द्वारा बताया जा रहा है कि और भी पु’लिस थानों में मुक’दमा दर्ज है। मोस्टवांटेड विकास दुबे का शार्प शूटर अमर दुबे पुलिस मुठभेड़ में मारे गए अतुल दुबे का भतीजा है। पु’लिस द्वारा ये बात बताई जा रही है कि जब पु’लिस विकास दुबे के घर छापा मा’रने गयी तो अमर दुबे वही मौजूद था। अमर दुबे पु’लिसकर्मि’यों पर फाय’रिंग करने और उनकी जा’न लेने में भी शामिल था। घटना के बाद से अमर विकास के साथ ही भाग निकला था। अमर दुबे वुकस दुबे के सबसे खास लोगों में से था। मोस्टवां’टेड विकास दुबे की तलाश में जुटी एसटीएफ और पु’लिस टीम ने हमीरपुर के मौदहा में बुधवार सुबह मोस्टवां’टेड विकास के करीबी साथी अमर दुबे की घेराबंदी कर ली थी।