तो वर्ल्ड कप से बाहर हो जाएगा पाकिस्तान

0
197

पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने हाल ही में वर्ल्ड चैंपियन वेस्टइंडीज को टी-20 सीरीज में 3-0 से हरा कर क्लीन स्वीप किया। पाकिस्तान टेस्ट में भी नंबर 1 टीम है, लेकिन एकदिवसीय क्रिकेट में उसके सामने बहुत बड़ी दिक्कत आ खड़ी हुई है। इस शर्मनाक स्थिति से बचने के लिए उसके पास एकमात्र रास्ता यही है कि वह अगली सीरीज में भी क्लीन स्वीप करे, जो मुश्किल तो है नामुमकिन नहीं।
अगर ऐसा नहीं हो पाया तो पहली बार उसे वर्ल्ड कप में खेलने के लिए क्वालीफाइंग दौर से गुजरना होगा। संभावना है कि पाकिस्तान को अगले वर्ल्ड कप के लिए एसोसिएट देशों को हराकर क्वालिफाई करना पड़ेगा।
दरअसल, पाकिस्तान को वेस्टइंडीज के खिलाफ 3 वनडे मैचों की सीरीज खेलनी है। वनडे रैंकिंग में 9वें स्थान पर काबिज पाकिस्तान को यदि 2019 में इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड कप में स्वत: क्वालिफाई करना है, तो उसे वेस्टइंडीज को 3-0 से हराना होगा यानी कि क्लीन स्वीप। ऐसा नहीं होने पर उसकी रैंकिंग में सुधार नहीं होगा।
वहीं वेस्टइंडीज की बात की जाए, तो अपना 8वां स्थान बरकरार रखने के लिए उसे पाक को सिर्फ क्लीन स्वीप से रोकना है। पाकिस्तान और वेस्टइंडीज दोनों ही 50-50 ओवर के फॉर्मेट में लचर प्रदर्शन से जूझ रहे हैं।
पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के बीच शुक्रवार से शुरू हो रही इस वनडे सीरीज में वर्ल्ड कप की टिकट भी दांव पर लगी हुई है। 1992 में वर्ल्ड कप जीतने वाला पाकिस्तान चाहेगा कि वो 3-0 से सीरीज जीतकर वर्ल्ड कप में अपनी सीट पक्की कर ले तो वहीं 1975 और 1979 में वर्ल्ड चैंपियन रही वेस्टइंडीज टीम भी क्लीन स्वीप को रोकने के लिए पुरजोर कोशिश करेगी।
अगले साल यानी 30 सितंबर 2017 को इंग्लैंड और टॉप रैंकिंग वाले 7 देश स्वत: ही वर्ल्ड कप के लिए क्वालिफाई करेंगे। नीचे की 4 टीमों को अन्य एसोसिएट 6 देशों के साथ क्वालिफाइंग राउंड खेलना होगा, जहां से दो टीमों को वर्ल्ड कप में शामिल किया जाएगा।
पाकिस्तान और वेस्टइंडीज अगले साल भी कैरेबियाई धरती पर 3 मैचों की वनडे सीरीज खेलेंगे। पाकिस्तान को 30 सितंबर 2017 से पहले ऑस्ट्रेलिया समेत कई बड़े देशों के साथ खेलना है। वहीं वेस्टइंडीज को भारत और इंग्लैंड जैसे दिग्गज टीमों का सामना करना है। दोनों के लिए यह चुनौती काफी कठिन रहने वाली है।