निर्भया के दो’षियों पर दिल्ली सर’कार का ब’यान, “हम ख़ुद चाहते हैं…”

0
324
Arvind Kejriwal

निर्भया के दो’षियों को लेकर जैसे ही को’र्ट का फ़ै’सला आया कि उन्हें 22 जनवरी की सुबह फाँ’सी दी जाएगी ये बात सुनकर निर्भया की माँ आशा देवी बहुत ख़ुश हो गयीं और उन्होंने इस बात पर राह’त बतायी कि आख़िर उनकी बेटी को आज सात सालों बाद न्या’य मिला। पर जब सुनवाई पर नतीजा आने वाला था उस समय दो’षियों की वक़ील ने मुकेश की दया या’चिका राष्ट्रपति के पास होने की बात कहकर फाँ’सी की ता’रीख़ पर रो’क लगवा दी।

इस बात से निर्भया की माँ आशा देवी काफ़ी हता’श हुई और उन्होंने कहा कि मैं क़ा’नून पर भरो’सा करके इतने दिन इंतज़ार किया लेकिन क़ा’नून की आ’ड़ में ही दो’षियों को स’ज़ा नहीं मिल रही लेकिन हम फिर भी ये ल’ड़ाई जारी रखेंगे। आशा देवी ने कहा कि “22 जनवरी को उनको फां’सी होगी की नहीं ये मुझे नहीं पता क्योंकि जो का’नून व्यवस्था है वो दो’षियों को स’र्पोट करती है, पूरा सि’स्टम और सर’कार मुज’रिमों को स’र्पोट करता है। अब तो सर’कार ही बताएगी कि 22 जनवरी को आरो’पियों को फां’सी होगी कि नहीं?”

इस मामले में भाजपा ने आम आदमी पार्टी पर निशा’ना सा’धा प्रकाश जावडेकर ने कहा कि “निर्भया के दो’षियों की फाँ’सी की स’ज़ा में दे’री का कार’ण है दिल्ली सरकार की अ’नदेखी है। न्या’य में हो रही दे’री के लिए आम आदमी पार्टी ही ज़ि’म्मेदार है। ढाई साल में दिल्ली सर’कार ने दो’षियों को दया या’चिका दा’ख़िल करने के लिए नोटि’स क्यों नहीं भेजा?”

प्रकाश जावडेकर के इस ब’यान का जवा’ब देते हुए आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि “इस के’स से जुड़े वो सभी काम जो दिल्ली सर’कार के अंतर्गत आते हैं उन्हें कुछ ही घंटे में पूरा कर दिया गया था। हमने इस के’स से जुड़े किसी भी काम में दे’री नहीं की। दिल्ली सर’कार की इस के’स में मुश्किल से ही कोई भू’मिका बनती है। हम ख़ुद चाहते हैं कि दो’षियों को जल्द से जल्द स’ज़ा हो”