कुदरत का करिश्मा, नवजात को 128 घंटे बाद मलबे से सकुशल निकाला

0
98

तुर्की और सीरिया में आए विनाशकारी भूकंप से जहां भारी जनहानि हुई है वहीं हैरत में डालने वाली सुखद खबरें भी सामने आ रही हैं. इसे कुदरत का करिश्मा ही मानना पड़ेगा कि तुर्की के हेते प्रॉविंस में एक नवजात बच्चा अपने घर के मलबे के नीचे दबा रहा और वह 128 घंटे बाद जीवित मिला. इस बच्चे का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह उस व्यक्ति की उंगली चूस रहा है जिसने उसे गोद में ले रखा है.

इससे पहले NDRF की टीम ने तुर्की में भूकंप प्रभावित क्षेत्र में मलबे में फंसी 8 साल की बच्ची को सुरक्षित निकाल लिया था. ससे पहले तुर्की में राहत और बचाव के काम में जुटे एनडीआरएफ के जवानों ने तुर्की सेना के जवानों के साथ गाजियांटेप प्रांत के नूरदगी शहर में अभियान चलाया था. NDRF के जवानों ने गुरुवार को इसी इलाके से 6 साल की एक बच्ची को रेस्क्यू किया था.

तुर्की और सीरिया में आए विनाशकारी भूकंप के बाद से हालात हर दिन बदतर होते जा रहे हैं. तुर्की और सीरिया में भूकंप की वजह से अब तक 25000 से ज्यादा लोगों के मारे जाने की खबर है. भारत दोनों देशों में ‘ऑपरेशन दोस्त’ के तहत मदद पहुंचा रहा है. भारत के राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) की टीमें  तुर्की और सीरिया में रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी हैं.